खास खबर/लोकल खबरशेखपुरा

*खूब इलाज़ कर दिया,अपने मोहब्बते -ए-इश्क का। दर्द मिटाने आए थे ,लेकिन इश्क़ ने दर्द बढ़ा दिया।*

दिल मे है दर्द वो दर्द किसे बताएं,
हँसते हुए ये ज़ख्म किसे बताएं,

कहती है ये दुनिया हमे खुश नसीब,
मगर इस नसीब की दास्तां किसे बताएं।

मोहब्बत भी क्या चीज़ है,अपनी जान हथेली पर रखकर अपनी महबूबा से मिलने की तमन्ना को किसी की नजर लग गईं और फिर मोहब्बत के पहरेदार ने सारे मंसूबो पर पानी फेर दिया। इज़हार ए इश्क़ करने के पहले लहुलुहान हो कर अस्पताल में मोहब्बत के लिए जिंदगी से जंग लड़ रहा है। जी हां यह कोई फ़िल्म की कहानी नही है बल्कि शेखपुरा जिले के सुदासपुर गांव का एक युवक को शेखपुरा शहर की एक लड़की से प्यार हो गया। प्यार परवान चढ़ता गया, एक दूजे के लिए कसमे वादे भी हुए और बीती रात प्रेमी अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर पर पहुंच गया।

लेकिन कड़ा पहरा होने के कारण प्रेमी अपनी प्रेयसी से नही मिल सका। प्यार के पहरेदारों के भय से छत से ही ज़मीन पर छलांग लगा दिया। जिसके कारण प्रेमी पूरी तरह घायल हो गया। फिर उसके बाद भी पहरेदारों ने लाठी डंडे से पीटकर लहूलुहान कर दिया। घटना की सूचना प्रेमिका को मिली फिर क्या था अपने प्रेमी की लहूलुहान हालत को देखकर छत से नीचे ज़मीन पर कूद गई। घटना की सूचना पुलिस को मिली और पुलिस घटना स्थल पर पहुंच कर दोनों प्रेमी और प्रेमिका को सदर अस्पताल पहुंचाया। लेकिन गंभीर स्थिति के कारण डॉक्टर ने पावापुरी मेडिकल कॉलेज भेज दिया जहाँ दोनों जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रहे हैं।

Back to top button
error: Content is protected !!