प्रशासनशेखपुरा

शेखपुरा नगर परिषद ने चलाया अतिक्रमण मुक्त अभियान, अतिक्रमणकारिओं पर जमकर हुई कार्रवाई

सड़क जाम! शेखपुरा जिला मुख्यालय की सबसे बड़ी समस्या है। कुछ सड़क के दोनों तरफ बसे दुकानदारों के द्वारा किये गए अतिक्रमण के कारण, कुछ सड़क के दोनों तरफ लगे सब्जी और फल के ठेला भेंडरों के कारण, कुछ ई-रिक्शा और ऑटो के कारण और बाकी रही-सही कसर शहर के नागरिकों के द्वारा सड़क पर बेतरतीब लगाए गए दुपहिया और चारपहिया वाहनों ने शहर की हालत खराब कर दी है। जाम का ये आलम है कि जिला मुख्यालय के मुख्य बाजार से आप चार पहिया से बाहर जाना चाहो तो घण्टों लग जायेगा। प्रशासन के कड़े दिशा-निर्देशों को यहां कोई नहीं मानता।
इसी के मद्देनजर आज नगर परिषद के द्वारा शहर के विभिन्न इलाकों को अतिक्रमण से मुक्त करने हेतु आज विशेष अभियान चलाया गया। कार्यपालक पदाधिकारी दिनेश दयाल लाल की मौजूदगी में नगर परिषद कर्मियों और स्थानीय पुलिस ने मिलकर सड़क को अतिक्रमण से मुक्त करवाया। अनाधिकार रूप से सड़क पर लगे ठेला भेंडरों, वाहनों को सड़क से हटाया गया। इस कार्रवाई में एक पल्सर बाइक को जब्त कर थाना भी भेजा गया। वहीं स्थाई दुकानदारों को अतिक्रमण न करने की वार्निंग के साथ सड़क पर पड़े उनके टीन और डब्बों को जब्त कर लिया गया। देखना ये है कि इस कड़ी कार्रवाई के बाद लोग कितने जागरूक होते हैं और कबतक यहाँ जाम नहीं लगता है।

Back to top button
error: Content is protected !!