राजनीतिशेखपुरा

नए कृषि कानून के खिलाफ भारत बंद का रालोसपा ने किया समर्थन, किया पुतला दहन

नए कृषि कानून के खिलाफ आज भारत बंद का रालोसपा ने भी समर्थन किया। शेखपुरा में राष्ट्रीय महासचिव राहुल कुमार के नेतृत्व में रालोसपा कार्यकर्ताओं ने पुतला दहन कर भारत बंद में सक्रिय भागीदारी निभाई। इस मौके पर राहुल कुमार ने कहा कि किसान विरोधी कानून के खिलाफ सिर्फ पंजाब और हरियाणा के किसान सड़क पर नहीं उतर रहे हैं, बल्कि अब यह आंदोलन देशव्यापी हो गया है। सरकार किसानों की फसल और जमीन को अडानी और अम्बानी जैसे कॉरपोरेट घरानों को दे देना चाहती है। उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में कहीं पर फसल की खरीद नहीं होती है। अभी सरकार ने 1868 रुपया दाम प्रति क्विंटल तय किया है, लेकिन पैक्स ने अभी तक धान का खरीद शुरू भी नहीं किया है। मजबूरन अधिकतर किसान 1100 रुपये क्विंटल धान खुले बाजार में बेचने को मजबूर हैं। बिहार में तो किसानों के गेंहू, दलहन और तिलहन की खरीद ही नहीं होती है। देश का नया कानून करोड़ों किसानों को कॉरपोरेट कंपनियों में मजदूर बना देने की साजिश है। उन्होंने कहा कि रालोसपा किसी कीमत पर जनविरोधी कानून के खिलाफ किसानों के साथ खड़ी रहेगी। इस मौके पर प्रदेश महासचिव बिपिन चौरसिया, प्रदेश सचिव प्रमोद यादव, किसान प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष सुभाष सिंह, रिकी पांडेय, नगर अध्यक्ष राजीव पटेल, दलित प्रकोष्ठ अध्यक्ष रामप्रसाद दास सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

Back to top button
error: Content is protected !!