शेखपुरा

कांग्रेस आश्रम में भी संबिधान के निर्माता को दी गई श्रद्धांजलि

बाबा साहेब डॉ भीम राव अम्बेडकर के निर्वाण दिवस के अवसर पर शेखपुरा जिला काँग्रेस कार्यालय आजाद हिंद आश्रम में कांग्रेस के जिला अध्यक्ष सुन्दर साहनी के नेतृत्व में बाबा साहेब को श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर जिलाध्यक्ष ने बताया कि अम्बेदकर जी बचपन से ही प्रतिभा के धनी छात्र थे। उन्होंने कोलंबिया विश्वविद्यालय और लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स दोनों ही विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की तथा विधि और शास्त्र और राजनीतिक विज्ञान में शोध कार्य भी किए थे। व्यवसायिक जीवन के आरंभिक भाग में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर रहे एवं वकालत भी की तथा बाद का जीवन राजनीतिक गतिविधियों में अधिक बिता। उसके बाद बाबा भीमराव अंबेडकर भारत की स्वतंत्रता के लिए प्रचार-प्रसार में शामिल हो गए। पत्रिकाओं को प्रकाशित करने लगे। राजनीतिक अधिकारों की वकालत करने और दलितों के लिए सामाजिक स्वतंत्रता की वकालत और भारत के निर्माण में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा। इस कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष के अलावे प्रमोद यादव, महेंद्र प्रसाद, रामचरित्र राम आदि कई कार्यकर्त्ताओं ने भी भाग लिया।

Back to top button
error: Content is protected !!