खास खबर/लोकल खबरजरा हट केबिहारमनोरंजन

मिलिये बिहार के मिथिलांचल की मशहूर गायिका कृतिका सिंह गौतम से, “बिहारी प्रतिभा को मिले सम्मान” कार्यक्रम में

बिहारी माटी में बहुते दम बा! ईहां बड़का-बड़का सुरमा और कलाकार जनम लेले बा। आ उ हर क्षेत्र में अपन-अपन नाम भी रौशन कईले बा।

बिहार के कोने कोने में अनेक प्रतिभाएं छुपी हुई हैं। उनमें से कितनों को तो हम जानते भी नहीं हैं। जबकि आज जरूरत है, उन छुपी हुई अनमोल प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने की। बिहारी होने के नाते हम उनको सपोर्ट कर उनका तो सम्मान कर ही सकते हैं। मगही न्यूज़ ने पूरे बिहार की इन्हीं प्रतिभाओं को सम्मान की खातिर आप सबों से रूबरू करवाने की मुहिम चलाई है। हम लगातार बारी-बारी सब का परिचय आपसे करवाने की कोशिश करते रहेंगे।

मिथिलांचल की गौरव है ये मशहूर गायिका

आज इस कड़ी में हम आपको मिलवा रहे हैं, देश के कई मशहूर गायकों के साथ अपनी जुगलबंदी कर सुरों का जलवा बिखेर चुकी, कई मैथिली फिल्मों में प्लेबैक सिंगिंग कर चुकी मिथिलांचल की एक मशहूर कलाकार कृतिका सिंह गौतम से।

सहरसा शहर के मशहूर संगीत गुरु व SNS कॉलेज के प्रोफेसर गौतम कुमार सिंह और नृत्य की गुरु व मधेपुरा कॉलेज की प्रोफेसर भारती सिंह की बेटी कृतिका को बचपन से ही नृत्य व संगीत से बेहद लगाव था और जब घर में ही ऐसे गुरु मिल जाएं तो लगाव वाजिब भी है।

युवा उत्सव 2005 की विनर भी बन चुकी है कृतिका

झारखण्ड के जमशेदपुर से B.tech और बिहार के पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी से संगीत में MA कर चुकी कृतिका संगीत और नृत्य की कई डिग्रियां हासिल कर चुकी है। अपने जिले के अलावे बिहार के कई अन्य हिस्सों में आयोजित कला महोत्सव के बड़े-बड़े मंचों पर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा कर कई बार सम्मानित भी हो चुकी है।

कोशी महोत्सव, श्री उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव, गोपाष्टमी महोत्सव, बिहार दिवस, सिंघेश्वर महोत्सव, दरभंगा जिला स्थापना दिवस, पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी की ओपनिंग सेरेमनी, कला संस्कृति और युवा विभाग बिहार के द्वारा आयोजित कई अन्य कार्यक्रमों में अपने सुरों का जलवा भी बिखर चुकी हैं।

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री की कई मशहूर हस्तियों के साथ साझा किया है मंच

और तो और देशभर में प्रसारित होने वाले विभिन्न चैनलों पर आयोजित संगीत कार्यक्रमों में प्रतिभागी के तौर पर हिस्सा भी ले चुकी है।

indian idol, india’s got talent, sa re ga ma जैसे मशहूर कार्यकर्मों में अपनी गायिकी से दर्शकों के साथ शो के जजों का भी दिल जीत चुकी कृतिका ने मशहूर गजल गायक चंदन दास, सुरों की मलिका कविता कृष्णमूर्ति और हिंदी फिल्मों के मशहूर गायक विनोद राठौर के साथ कई कार्यक्रमों में जुगलबंदी कर तारीफ पा चुकी कृतिका ने बताया कि संगीत मेरा पहला और आखिरी प्यार है।

संगीत को अपना जीवनसाथी बना चुकी इस गायिका ने कहा कि बिना जीवन सुना सा लगता है।

साथ ही मगही न्यूज के माध्यम से उन्होंने तमाम बिहार के लोगों से अपील की है कि उनके गीतों और गजलों को सुनकर इनके youtube चैनल को subscribe कर बिहार की इस बेटी का मान बढ़ाएं।

Back to top button
error: Content is protected !!