चुनावराजनीतिशेखपुरा

शेखपुरा में पैसे के बल पर चुनावी नैया पार करने का उम्मीदवार का कसरत जारी, वोट के ठीकेदारों की बल्ले-बल्ले

शेखपुरा विधानसभा क्षेत्र में 28 अक्टूबर को चुनाव होना है। सभी राजनीतिक दल ने विभिन्न तरीके से ताकत झोंक दिया है। शेखपुरा बिधानसभा में वोटकटवा उम्मीदवार को लड़ाई में बनाये रखने के लिये एक उम्मीदवार का प्रतिदिन 10 लाख खर्च हो रहा है। अपुष्ट सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि एक नए बने पार्टी के उम्मीदवार और एक निर्दलीय उम्मीदवार का पूरा खर्च लड़ाई में दिखने बाले एक उम्मीदवार उठा रहे हैं। जब नए पार्टी का बाइक रैली था तो 125 बाइक में 2 लीटर प्रति बाइक में दिया गया। दूसरी तरफ निर्दलीय का क्या कहना, उसका भी बल्ले बल्ले है। एक प्रत्याशी को पूरा भरोसा दिए हुए है कि प्रतिद्वंद्वी प्रत्याशी के वोट में सेंघ मारी कर दिए। बस क्या था, खज़ाना खुल गया। ये तो हुआ एक प्रत्याशी का जो चुनावी जंग में इस बार जीत के लिए हर प्रयास कर रहे हैं। अब आपको एक ऐसे प्रत्याशी के पास ले जा रहे हैं, जहाँ मतदाताओ में खूब चर्चा हो रही है राशि बांटने के इस खेल में प्रोपगेंडा फैलाने वाले भी पीछे नहीं हैं। प्रत्याशी को चुनाव की गणित का शायद जानकारी नहीं है। लेकिन जीत का ख्बाब जरूर देख रहे हैं। चुनाव है भाई जीत का ख्बाब देखना भी जरूरी है। इस उम्मीदवार महोदय के पास नए-नए वोट के ठीकेदार देखने को आसानी से मिल जाएंगे। लेकिन उम्मीदवार महोदय आपको पता भी होना चाहिए कि वोट की ठीकेदारी प्रथा खत्म हो गई है। सभी मतदाता सजग भी हो गए हैं। पैसे के बल पर विधानसभा तक पहुंचने का ख्बाब शेखपुरा की सड़कों तक ही 28 अक्टूबर को सिमट कर रह जायेगा। ये पब्लिक है, सब जानती है।

Back to top button
error: Content is protected !!