चुनावशेखपुरा

प्रशिक्षण से गायब 57 कर्मियों पर होगी कार्रवाई, लापरवाही बर्दास्त नहीं- डीएम इनायत खान

बिहार विधान सभा आम निर्वाचन 2020 को निष्पक्ष, स्वच्छ, पारदर्शी एवं भयमुक्त वातावरण में संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन शेखपुरा कृत संकल्प है। जिला निर्वाचन अधिकारी सह जिलाधिकारी इनायत खान के द्वारा इसके लिए प्रतिदिन नोडल अधिकारियों के साथ समीक्षा की जा रही है।मतदान एवं मतगणना कार्य को सुचारित विधि एवं बिना बाधा के संपन्न कराने के लिए निर्वाचन आयोग के निर्देश के अनुरूप प्रशिक्षण दिए जा रहे हैं। लेकिन कुछ मतदान कर्मी इसको गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। द्वितीय चरण का प्रशिक्षण कार्यक्रम शेखपुरा जिला के डाइट और अभ्यास मध्य विद्यालय में किया गया है। नोडल अधिकारी कार्मिक एवं पोलडे अरेजमेंट कोषांग के के यादव ने बताया कि अब तक प्रशिक्षण के कार्यक्रम से 57 कर्मी/अधिकारी बिना सूचना के अनुपस्थित रहे हैं। बिहार विधान सभा आम निर्वाचन के तहत शेखपुरा जिला के दोनों निर्वाचन क्षेत्र 169, शेखपुरा एवं 170, बरबीघा में दिनांक 28 अक्टूबर को होने वाले आम निर्वाचन के लिए 1 अक्टूबर से 5 अक्टूबर तक मतदान कर्मी, अधिकारी एवं प्रथम द्वितीय एवं तृतीय मतदान कर्मियों का अभ्यास विद्यालय एवं डाइट में प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया गया था। डीपीआरओ ने बताया कि मतदान कर्मियों/पदाधिकारियों के लिए प्रशिक्षण के लिए मोबाइल पर SMS तथा प्रथम नियुक्ति पत्र के द्वारा सूचित तथा तामील कराया गया था। इसके बावजूद भी 57 अधिकारी एवं कर्मी अनुपस्थित रहे। 15 पीठासीन पदाधिकारी, 8 प्रथम मतदान अधिकारी, 13 द्वितीय मतदान पदाधिकारी, 11 तृतीय मतदान पदाधिकारी, 9 पेट्रोलिंग मजिस्ट्रेट, 1 माइक्रोऑब्जर्वर अधिकारी प्रशिक्षण में शामिल नहीं हुए थे। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी के आदेश के आलोक में यह प्रशिक्षण कार्यक्रम निर्धारित था। इनकी अनुपस्थिति को जिला निर्वाचन अधिकारी सह जिलाधिकारी शेखपुरा ने काफी गंभीरता से लिया है। उनकी अनुपस्थिति घोर लापरवाही तथा अनुशासनहीनता का प्रतीक है। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया है कि सभी अनुपस्थित मतदान कर्मी एवं अधिकारी 24 घंटे के अंदर कार्मिक कोषांग में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें, अन्यथा निर्वाचन आयोग की मार्गदर्शिका के अनुरूप विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

Back to top button
error: Content is protected !!