जयंती समारोह

बरबीघा उच्च विद्यालय में सादे समारोह के बीच मनाई गई राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की जयंती

शेखपुरा जिले के प्लस टू उच्च विद्यालय बरबीघा में राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की जयंती जहां विद्यालय के शिक्षकों ने सादे समारोह के बीच मनाई गई। वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं ने विद्यालय परिसर में स्थापित उनकी आदमकद प्रतिमा पर पुष्पांजलि एवं श्रद्धा सुमन अर्पित कर लोगों से उनके पद चिन्हों पर चलकर देश की एकता और अखंडता बनाए रखने का आह्वान किया। ज्ञात हो कि प्लस टू उच्च विद्यालय के संस्थापक प्रधानाध्यापक राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर थे। जिन्होंने हिमालय नामक कविता को इसी विद्यालय में रहकर लिखने का काम किया।

श्रद्धा सुमन अर्पित करते विद्यालय के शिक्षक

जिला माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव राजनीति कुमार, अध्यक्ष रवि कुमार, राज्य कार्यकारिणी राजीव कुमार उर्फ पप्पू, प्रधानाध्यापक संजय कुमार इत्यादि ने दिनकर जी की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद इन लोगों ने अपने संबोधन में कहा कि दिनकर जी के वाणी में ओज, तेज, प्रताप एवं हुंकार था। इन्होंने रश्मिरथी, उर्वशी, संस्कृत के चार अध्याय, हिमालय के अलावा अन्य कविताओं एवं गद्य के भी चार पांच हजार से अधिक अध्याय लिखने का काम किया। आचार्य गोपाल ने दिनकर जी पर स्वरचित कविता का पाठ किया। इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षक डॉ सुखेंदु कुमार, राजीव कुमार, प्रभाकर त्रिवेदी, डॉ विकास कुमार, राकेश पांडे, प्रभाकर पांडे, रंजीत कुमार, आचार्य गोपाल जी, राम रंजन पांडे, प्रभात कुमार, अमरेंद्र प्रसाद, रमन प्रसाद सिंह, राजेश कुमार, डॉ कल्पना कुमारी, पूनम कुमारी, वनीता कुमारी गुप्ता, लवली कुमारी, विजय राम रतन सिंह, अनुसेवक प्रभात कुमार, रुणा कुमारी, रामनंदन सिंह एवं रात्रि प्रहरी विजय कुमार इत्यादि मौजूद थे। विद्यालय के शिक्षक आचार्य गोपाल की युगधारा पब्लिकेशन से आने वाली पुस्तक “काव्य कुसुम की खुशबू” का ऑनलाइन लोकार्पण भी किया गया। भाजपा के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने भी राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर की जयंती के अवसर पर बरबीघा प्लस टू उच्च विद्यालय पहुंच कर उनकी आदमकद प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। इस मौके पर भाजपा जिला उपाध्यक्ष हीरालाल सिंह, विनोद कुमार माथुर, राकेश कुमार, उमेश कुमार इत्यादि लोग उपस्थित थे।

Back to top button
error: Content is protected !!