राजनीतिरोजगारशेखपुरा

रोजगार मांगे इंडिया, राष्ट्रव्यापी प्रतिरोध, 9 बजे 9 मिनट बिजली गुल

शेखपुरा में इंकलाबी नौजवान सभा एवं आइसा के राष्ट्रव्यापी आह्वान पर छात्रों एवं बेरोजगार युवाओं ने टॉर्च, मोमबत्ती एवं दीया जलाकर सरकार के प्रति रोजगार के लिए अपने गुस्से का इजहार किया। अरियरी प्रखंड के अंतर्गत वृंदावन गांव में इनोस जिला संयोजक कमलेश प्रसाद ने बयान जारी कर बताया कि रोजगार मांगे इंडिया कार्यक्रम के तहत जिले के अरीयरी, चेबाड़ा, शेखोपुरसराय, घाटकुसुम्भा में आइसा, इनौस के कार्यकर्ताओं ने बेरोजगार दिवस मनाया।

साथ ही उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार छात्र युवाओं से चुनाव के समय वादा किया था कि प्रतिवर्ष 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देंगे। पर रोजगार देने के बजाय लोगों को रोजगार छीन लिया। आज देश की अर्थव्यवस्था भी खत्म हो गई है। इसलिए युवाओं ने सरकार से सवाल कर रहा है कि आखिर 2 करोड़ रोजगार गया कहां? जवाब चाहिए। पर इस सरकार ने बेशर्मी की हद पार कर दी है, ना श्वेत पत्र दिखाती है, ना ही प्रेस कॉन्फ्रेंस कर छात्र युवाओं को बताती है कि रोजगार का क्या हुआ? कोरोना का भय दिखाकर देश में रोजगार सृजन करने वाली रेलवे, एचएससीएल, एयरलाइंस, एयरपोर्ट एवं तमाम कंपनियों को कारपोरेट के हाथों में बेच दिया है। इसलिए मेरी संगठन मांग करती है कि नरेंद्र मोदी इस्तीफा दें। इस आंदोलन में कन्हैया कुमार, चिंटू कुमार, ललित कुमार, जय शंकर कुमार, नवलेश कुमार एवं दर्जनों छात्र युवाओं ने भाग लिया।

Back to top button
error: Content is protected !!