चुनावशेखपुरा

सभी मतदान केंद्रों पर अधारभूत संरचना की होगी व्यवस्था, सदर एसडीओ ने सभी बीडीओ को दिया निर्देश – निशांत,एसडीओ

शेखपुरा समाहरणालय के मंथन सभा कक्ष में स्वीप अर्थात सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता कोषांग की बैठक अनुमंडल पदाधिकारी शेखपुरा निशांत की अध्यक्षता में संपन्न हुई। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि सभी मतदान केंद्रों पर आधारभूत सुविधा सुलभ कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि स्कूलों में जहां शौचालय नहीं है वहां शिक्षा विभाग एवं समुदायिक भवन जहां मतदान केंद्र है वहां प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने स्तर से शौचालय का निर्माण करना सुनिश्चित करेंगे। जिन विद्यालयों में मतदान केंद्र है और पेयजल की सुविधा नहीं है, वहां पर पीएचईडी के द्वारा चापाकल को मरम्मत किया जाएगा। सभी मतदान केंद्रों पर बिजली कनेक्शन करने का निर्देश दिया गया। उन्होंने कहा कि 18 वर्ष की उम्र पूर्ण करने वाले अहर्ता रखने वाले नागरिकों को मतदाता सूची में नाम दर्ज करने के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता दें। नवविवाहिता महिलाएं जो अपने ससुराल में आती है, उनका भी नाम मतदाता सूची में नहीं होता है। उन्हें भी मतदाता सूची में नाम दर्ज करने का निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जेंडर रेशियो को बढ़ाने के लिए महिलाओं के लिए सभी मतदान केंद्रों पर विशेष शिविर लगाने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी से अनुमति ली जा सकती है। इसके अलावे सभी महादलित टोले एवं कमजोर वर्गों की अहर्ता रखने वाले सभी नागरिकों को मतदाता सूची में जोड़ने के लिए कई निर्देश दिया गया। इस निर्वाचन में भी दिव्यांग व्यक्तियों को नाम जोड़ने एवं शत प्रतिशत मतदान कराने के लिए विशेष व्यवस्था की जा रही है। इस अवसर पर जिला जनसंपर्क अधिकारी सत्येंद्र प्रसाद ने बताया कि स्वीप कोषांग का मुख्य उद्देश्य है अधिक से अधिक मतदान प्रतिशत को बढ़ाना। इसके लिए सभी विभागों का समन्वय बहुत जरूरी है। इस कार्य में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एवं प्रिंट मीडिया का भी उल्लेखनीय योगदान रहता है। महिलाओं का मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए जीविका के माध्यम से रंगोली, मेहंदी प्रतियोगिता, कुर्सी दौड़ आदि कार्यक्रम किये जा रहे हैं। पिछले विधानसभा एवं लोकसभा निर्वाचन में जिन मतदान केंद्रों पर मतदान का प्रतिशत कम रहा है, वहां पर विशेष अभियान चलाया जाएगा। इसके अलावे प्रचार गाड़ी, होल्डिंग, फ्लेक्स, बैनर एवं नुक्कड़ नाटक के माध्यम से कार्यक्रमों को जन-जन तक पहुंचाया जाएगा।
‌प्रशांत शेखर उप निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि ईवीएम में नोटा बटन के प्रयोग की जानकारी मतदाताओं को जरूर दी जाए। इसके अलावे मतदाताओं को शत-प्रतिशत नाम
दर्ज करने एवं शत प्रतिशत मतदान के लिए सभी आवश्यक कदम उठाया जाए। जो नागरिक मतदान के प्रति उदासीन हैं, उन्हें मतदान के महत्व को बताया जाए। बिहार विधान सभा आम निर्वाचन में शत-प्रतिशत मतदान करने के लिए वोट के महत्व को बताया जाएगा। 1 वोट से हार जीत का फैसला होता है। लोकतंत्र की सफलता के लिए सभी मतदाताओं कोअपना मत डालना अधिकार है। यह अधिकार 5 वर्षों के बाद आता है। स्वीप के नोडल पदाधिकारी कुमार ऋत्विक ने बताया कि विशेष दिवसों पर स्वीप कार्यक्रमों को बेहतर बनाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि शिक्षक दिवस, हिंदी दिवस, शांति दिवस, महात्मा गांधी जयंती दिवस पर विशेष कार्यक्रम आयोजित कर स्वीप के महत्व को जन-जन तक पहुंचाना जरूरी है। उन्होंने पावर प्रेजेटेंशन के माध्यम से स्वीप के कार्यक्रमों को विस्तार से बताया। ‌आज स्वीप के कार्यक्रम में कुंदन कुमार सहायक योजना पदाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी डीपीएम जीविका अनीशा, मास्टर ट्रेनर के साथ-साथ कई पदाधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button
error: Content is protected !!