धर्म और आस्थाशेखपुरा

पति की लंबी उम्र के लिये सुहागिनों ने किया वट-सावित्री का पूजन, कल होगा इस व्रत का पारण

Sheikhpura: पति की लंबी आयु के लिए रखा जाने वाला व्रत वट सावित्री व्रत के अवसर पर जिले में काफी धूम रही। सभी जगहों पर सुहागिनों के द्वारा वट वृक्ष की पूजा-अर्चना कर फेरे लगाए गए। इस दौरान सुहागिनों ने सावित्री-सत्यवान की मूर्तियां बनाकर धूप, दीप, घी, बांस का पंखा, लाल कलावा, सुहाग का समान, कच्चा सूत, चना (भिंगोया हुआ), बरगद का फल, जल से भरा कलश आदि से वट-सावित्री जा पूजन कर अपने पति के लम्बी की कामना की।

बताते चलें कि यह व्रत हर साल ज्येष्ठ मास की अमावस्या को रखा जाता है। धार्मिक मान्यता है कि इस दिन सावित्री ने अपने पति सत्यवान के प्राण वापस लौटाने के लिए यमराज को भी विवश कर दिया था। इस व्रत के दिन सत्यवान-सावित्री कथा को भी पढ़ा या सुना जाता है। वट-सावित्री व्रत में बरगद के पेड़ की पूजा की जाती है। हिंदू धर्म में बरगद का वृक्ष पूजनीय माना जाता है।

व्रत-कथा सुनती सुहागिन स्त्रियाँ

शास्त्रों के अनुसार, इस वृक्ष में सभी देवी-देवताओं का वास होता है। इस वृक्ष की पूजा करने से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है। यही कारण है कि इस दिन बरगद के पेड़ की पूजा शुभ मानी जाती है। इस व्रत का पारण कल 11 जून शुक्रवार को किया जाएगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए कई महिलाओं ने अपने घरों में ही व्रत किया।

Back to top button
error: Content is protected !!