शेखपुरास्वास्थ्य

रेफरल अस्पताल में मॉडल टीकाकरण केंद्र एवं डिजिटल एक्स-रे का हुआ शुभारम्भ, टीका एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी, गायब डॉक्टरों से स्पष्टीकरण

Sheikhpura: बरबीघा रेफरल अस्पताल में महीनों से बंद पड़े एक्स-रे मशीन को आज पुनः चालू किया गया। सिविल सर्जन डॉ कृष्ण मुरारी प्रसाद सिंह के द्वारा नए डिजिटल एक्स-रे मशीन का फीता काट कर शुभारम्भ किया गया। साथ ही बरबीघा रेफरल अस्पताल के शहरी क्षेत्र के बच्चे को संपूर्ण टीकाकरण के पूर्ण आच्छादन के लिए मॉडल टीकाकरण केंद्र का भी शुभारम्भ किया गया। यह मॉडल इम्यूनाइजेशन केंद्र पूर्णतः वातानुकूलित है तथा शिशुओं के टीकाकरण के लिए बेहतर सुविधाओं से लैस है। इन सुविधाओं के शुरू हिने के बाद अस्पताल की स्वास्थ्य व्यवस्था के बेहतर होने की उम्मीद जताई जा रही है।

टीका एक्सप्रेस की शुरुआत
इसके अलावा सिविल सर्जन ने टीका एक्सप्रेस को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह टीका एक्सप्रेस शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में दिए गए प्लान के अनुसार लोगों को जागरूक भी करेगी, साथ ही उनका टीकाकारण भी करती जाएगी। ज्ञातव्य हो कि कोरोना के टीका को जन जन तक सुलभता से पहुचाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी इनायत खान के निर्देश पर इस जिले के लिये विशेष टीका एक्सप्रेस की शुरुआत की गई है। केयर इंडिया के द्वारा टीका एक्सप्रेस के लिए एक सुसज्जित वाहन की व्यवस्था की गई है। इस टीका एक्सप्रेस पर दो टीकाकर्मी, एक वेरिफायर एवं एक आयुष चिकित्सक की ड्यूटी लगाई गई है।
गायब डॉक्टरों से मांगा स्पष्टीकरण
इस मौके पर सिविल सर्जन ने बताया कि इस अस्पताल में अल्ट्रासाउंड के अलावे लिफ्ट की सेवा भी जल्द ही लोगों को मिलेगी। साथ ही उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी के द्वारा स्वास्थ्य कर्मियों की छुट्टी रद्द करने के बाबजूद भी आज बिना सूचना के 4 डॉक्टर अनुपस्थित पाए गए हैं। अस्पताल के प्रभारी डॉ राजेंद्र प्रसाद, डॉ फैसल अरशद के साथ साथ दो और डॉक्टर अनुपस्थित थे। सिविल सर्जन ने इसे गंभीरता से लिया है और सभी डॉक्टरों को 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण देने का सख्त निर्देश दिया है।
इस अवसर पर केयर इंडिया के टीम लीड अभिनव कुमार, प्रियांशु वर्मा, प्रखंड प्रबंधक राजन कुमार, राजू कुमार, सुशील कुमार, केयर इंडिया के प्रखंड प्रबंधक अमन कुमार एवं अन्य लोग उपस्थित थे।

Back to top button
error: Content is protected !!