अपराधप्रशासनशेखपुरा

ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से हुए लूट कांड का हुआ उद्भेदन, सुबूत के साथ दो अपराधी पुलिस की गिरफ्त में

Sheikhpura: पुलिस कप्तान कार्तिकेय शर्मा ने जिले की कानून व्यवस्था को पूरी तरह बदल दिया है। तभी तो यहां की सुस्त पुलिस अब इतनी चौकस हो गई है। कोरोना से जंग में जीत दर्ज करने के बाद अब वे हाथ धोकर अपराधियों के पीछे पड़ गए हैं। लगातार एक के बाद एक मामलों का उद्भेदन शुरू हो गया है। इसी क्रम में पुलिस अवर निरीक्षक ऋषभ यादव के नेतृत्व एवं तकनीकी शाखा के सहयोग से पुलिस ने कार्रवाई करते हुए ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से हुए लूट कांड का उद्भेदन कर अपराधियों को सुबूत के साथ मात्र डेढ़ महीने में ही गिरफ्तार कर लिया।

मीडिया को इस बात की जानकारी देते हुए पुलिस कप्तान ने बताया कि बिगत 6 अप्रैल को अपराधियों ने बरुई मोड़ के समीप पिस्तौल दिखाकर पुरैना गांव के निवासी इंद्र कुमार से 1 लाख 10 हजार नगद और एक सैमसंग मोबाइल लूट लिया था। इस मामले में इंद्र कुमार के द्वारा कोरमा थाना में लिखित आवेदन देकर शिकायत दर्ज कराया गया था। जिसके बाद पुलिस ने वैज्ञानिक और तकनीकी रूप से अनुसंधान कर दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार अभियुक्त जमुई जिला के सिकंदरा थाना क्षेत्र के कुरहाडीह गांव निवासी सागर महतो का पुत्र रवीश कुमार और धर्म महतो का पुत्र टिंकू कुमार है।

लूट में इस्तेमाल हुई बाइक और बरामद सामग्री

साथ ही पुलिस ने इन अपराधियों के पास से लुटे गए मोबाइल के अलावे 46 सौ नगद एवं घटना में उपयोग की जाने वाली पल्सर बाइक, 12 मोबाइल, 3 एटीएम कार्ड, एक पैन कार्ड, एक आधार कार्ड और एक वोटर आईडी भी बरामद किया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने पूछ-ताछ के क्रम में अपना जुर्म कबूल भी किया है।

Back to top button
error: Content is protected !!