जन-समस्याशेखपुरास्वास्थ्य

NHM कर्मियों की हड़ताल के कारण कोरोना जांच एवं टीकाकरण अभियान ठप्प, इमरजेंसी सेवाओं पर असर नहीं

शेखपुरा जिले के नेशनल हेल्थ मिशन के सभी संविदा कर्मियों के अपनी बिभिन्न मांगों के समर्थन में होम आइसोलेट होने के कारण पूरे जिले में चल रहा कोरोना टीकाकरण और जांच अभियान ठप्प हो गया है। दूर-दराज के इलाकों से अपनी जांच और टीकाकरण करवाने आये लोगों को काफी परेशानी हो रही है। 3 दिन पहले 18 से अधिक उम्र वाले युवाओं के टीकाकरण अभियान पर भी इसका खासा प्रभाव दिख रहा है। जिले के बरबीघा रेफरल अस्पताल में आज टीकाकरण करवाने आये युवाओं की भीड़ लगी रही। इस दौरान नगर परिषद क्षेत्र के माउर गांव के करीब 20 की संख्या में टीकाकरण करवाने अस्पताल आये युवाओं ने अपनी नाराजगी व्यक्त की।

उन्होंने कहा कि 2 से 3 दिन की मेहनत के बाद कल टीकाकरण हेतु स्लॉट की बुकिंग हुई थी। जिसके बाद आज हमलोग टीका लगवाने अस्पताल आये थे। अब हड़ताल की बजह से बापस अपने घर जा रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ दूर-दराज गांव से कोरोना जांच कराने आये लोगों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पूछने पर एक व्यक्ति ने बताया कि 4-5 दिन से बुखार है, परिवार के 5 सदस्य जांच करवाने आये हैं। अस्पताल कर्मी कुछ भी बोलने से इनकार कर रहे हैं।

इलाज के बाद मरीज को दवाई देते स्वास्थ्य कर्मी

हालांकि इस हड़ताल की बजह से अस्पताल की इमरजेंसी सेवाओं पर इसका कोई असर देखने को नहीं मिला। अस्पताल में इलाज करवाने आये मरीजों को आम दिनों की भांति ही सुबिधायें मिल रही हैं। इस दौरान डॉक्टर अपने कर्तव्यों को निर्वहन भी बखूबी कर रहे हैं। वहीं अन्य स्वास्थ्य कर्मी भी पूरी ईमानदारी से मरीजों की सेवा करते पाए गए।

Back to top button
error: Content is protected !!