राजनीतिशेखपुराशोक सन्देशसमाजसेवा

यज्ञ के दौरान हुए हादसे के शोक-संतप्त परिजनों से मिले भवन निर्माण मंत्री, पार्टी की ओर से 50-50 हजार की नगद सहायता राशि भी सौंपा

Sheikhpura: बिहार सरकार के भवन निर्माण मंत्री डॉ अशोक चौधरी आज अपनी कर्मभूमि शेखपुरा पहुंचे। जहां उन्होंने जिलास्तरीय पदाधिकारियों व मुखिया प्रतिनिधि साकेत कुमार के साथ रसलपुर गांव जाकर यज्ञ के दौरान हुए भीषण हादसे का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने मृतकों के शोक-संतप्त परिजनों को सांत्वना दिया, वहीं घायलों के घर जाकर उनका भी कुशल-क्षेम पूछा।

भवन निर्माण मंत्री ने मौके पर मौजूद डीडीसी को तत्काल पीड़ित परिवार को 25000 की सहायता राशि देने का निर्देश दिया। साथ ही सभी मृतकों के परिजनों को अपनी पार्टी की ओर से तत्काल 50 हजार रुपये की सहायता राशि भी प्रदान किया। मंत्री जी ने घटना पर खेद जताते हुए बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता प्रभात आनंद को जमकर फटकार लगाई। साथ ही गांव के सभी जर्जर बिजली के तारों को अविलंब बदलने का निर्देश भी दिया।

घटना का जायजा लेते मंत्री जी

बता दें कि सदर प्रखंड के रसलपुर गांव में पहली बार यहां यज्ञ का आयोजन किया जा रहा था। 22 मई से 30 मई तक इस यज्ञ का आयोजन होना था। इसको लेकर बीते सोमवार को भव्य कलश यात्रा निकाला गया था। जिसमें रथ के पीछे सैकड़ों स्त्री व पुरुष चल रहे थे। तभी अचानक रथ के ऊपर लगा त्रिशूल 11 हजार वोल्ट बिजली के तार की चपेट में आ गया। जिससे रथ को खींच रहे सभी लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इस हादसे में वीरू और राजा नामक दो युवक की मौत भी हो गई थी।

नीमी गांव भी पहुंचे भवन निर्माण मंत्री
इसके बाद उन्होंने शेखोपुरसराय प्रखण्ड के नीमी गांव पहुंचकर अपने पुराने कार्यकर्ता धर्मराज की माताजी के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त किया। साथ ही पंचायत के पूर्व मुखिया सरोबर बाबू के निधन के बाद उनके शोक-संतप्त परिजनों से भी मिले। मौके पर उनके साथ इंद्रमोहन कुमार टुन्ना, पूर्व नगर अध्यक्ष अजय कुमार, शम्भू यादव, अरविंद कुमार, हरिशंकर छोटी, धीरज कुमार, सुधीर सिंह, निरंजन कुमार, कमलेश कुमार आदि भी मौजूद रहे।

Back to top button
error: Content is protected !!