धर्म और आस्थाशेखपुरा

उदीयमान सूर्य को अर्ध्य देने के साथ ही चार दिवसीय महापर्व चैती छठ पूजा हुआ सम्पन्न

Sheikhpura: चार दिवसीय लोक आस्था एवं सूर्य उपासना के महापर्व चैती छठ पूजा आज सम्पन्न हो गया। सुबह-सुबह उदीयमान सूर्य को अर्ध्य देकर छठव्रतियों ने तीन दिवसीय निर्जला उपवास का पारण किया। इस दौरान राजधानी पटना के गंगा नदी घाट सहित राज्य के सभी जिलों में छठ घाटों पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखने को मिली।

शेखपुरा जिले में भी बरबीघा के मालती पोखर, गांधी सरोवर एवं जिला मुख्यालय स्थित अरघौती पोखर सहित अन्य घाटों पर छठव्रतियों ने भगवान भास्कर को अर्ध्य दिया। भक्त सर पर छठ डाला लेकर सूर्योदय से पूर्व ही छठ घाट पहुंचने लगे। वहीं, छठव्रती महिलाएं भी श्रद्धालुओं के साथ दंडवत और पैदल चलकर छठ गंगा घाट पहुंची।

ठंडे पानी में आस्था की डुबकी लगाकर ठेकुआ, फल-फूल प्रसाद से सजे सूप को हाथों में लेकर भगवान भास्कर और छठ मईया को चढ़ाया। श्रद्धालुओं ने गंगा जल और दूध से अर्ध दिया। जिसके बाद छठव्रतियों ने प्रसाद ग्रहण कर अपने-अपने निर्जला उपवास का पारण किया।

यूं तो कार्तिक मास की तरह चैती छठ की पूजा बहुत कम लोग ही करते हैं। इसलिये घाटों पर कार्तिक मास की तरह अत्यधिक भीड़ नहीं होती। बाबजूद इसके इस महापर्व के आस्था में कोई कमी नहीं होती। लोग नेम-धरम व भक्ति भाव से भगवान भास्कर व छठी माई की आराधना करते हैं। साथ ही अपनी मनोकामना सिद्धि का वरदान भी मांगते हैं।

Back to top button
error: Content is protected !!