जन-समस्याजानकारीशेखपुरा

अपना भवन होने के बाबजूद निजी भवन में संचालित हो रहा आंगनबाड़ी केंद्र, जानें क्यों?

Sheikhpura: जिले के अधिकतर आंगनबाड़ी केंद्र किराए के मकान में संचालित हो रहे हैं। इस परेशानी को दूर करने के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन के द्वारा कार्य किया जा रहा है। आंगनबाड़ी केंद्र के निर्माण हेतु जमीन की तलाश लगातार जारी है। दूसरी तरफ जिले में कई ऐसे भी उदाहरण मौजूद हैं, जहां भवन होते हुए भी आंगनबाड़ी केंद्र निजी भवन में संचालित हो रहे हैं।

बरबीघा नगर क्षेत्र के वार्ड संख्या 7 में भी ऐसा ही है। अपना भवन होने के बाबजूद आंगनबाड़ी केंद्र सेविका के घर में संचालित हो रहा है। दरअसल इस वार्ड के ठठेरा टोला में 2011 में 3 लाख 31 हजार की लागत से आंगनबाड़ी केंद्र भवन का निर्माण किया गया था। करीब एक साल तक यहां केंद्र का संचालन भी किया गया। जिसके बाद वहां से हटाकर केंद्र को सेविका के निजी भवन में ट्रांसफर कर दिया गया।

इस बाबत आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका मालती देवी ने बताया कि जहां भवन बनाया गया वहां आने जाने का रास्ता नहीं है। आस-पास चारों तरफ गंदगी का अंबार लगा रहता है। जिसके कारण बच्चों के बीमार होने का खतरा बना रहता था। दूसरी तरफ उक्त भवन में मूलभूत सुविधाओं का भी अभाव था। इसको लेकर अभिभावकों ने अपने बच्चों को वहां भेजने से इंकार कर दिया था।

निजी भवन में पढ़ाई करते बच्चे

जिसके बाद विभाग की अनुमति से केंद्र का संचालन निजी भवन में ही करने का फैसला लिया गया। वहीं इस संबन्ध में सीडीपीओ के द्वारा मोबाइल रिसीव नहीं किये जाने के कारण अधिकारिक जानकारी नहीं मिल पाई है।

Back to top button
error: Content is protected !!