अपराधप्रशासनशेखपुरा

साइबर अपराधियों का मनोबल चरम पर, जिलाधिकारी के नाम पर कई जिलास्तरीय पदाधिकारियों को चुना लगाने की नाकाम कोशिश

Sheikhpura: जिले में साइबर अपराधियों का बोलबाला है। इस मामले में प्रशासनिक ढील के कारण उनका मनोबल अब चरम पर पहुंच गया है। इन साइबर अपराधियों ने ठगी के लिए सीधे जिलाधिकारी सावन कुमार के नाम का इस्तेमाल कर लिया। हद तो तब हो गई जब इन अपराधियों ने जिलाधिकारी के नाम पर कई जिलास्तरीय पदाधिकारियों से ठगी करने की कोशिश की। जिनमें अनुमंडल पदाधिकारी कुमार निशांत, वरीय उप समाहर्ता सोनी कुमारी, जिला कृषि पदाधिकारी शिवदत्त प्रसाद, जिला खनन पदाधिकारी आनंद प्रकाश, जिला मद्य निषेध पदाधिकारी एवं कई अन्य पदाधिकारी भी शामिल हैं। हालांकि समय रहते इस बात का खुलासा हो गया।

इस संबंध में जिलाधिकारी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर कहा कि इस ठग ने 9664781209 नम्बर से इन पदाधिकारियों को व्हाट्सप्प मैसेज भेज कर अबैध राशि की मांग की। उक्त व्हाट्सएप नंबर के प्रोफाइल में उनकी तस्वीर भी लगाई है। उक्त नम्बर रिलाइंस कम्पनी का है एवं जांचोपरांत पता चला कि यह नम्बर गुजरात के प्रेमजी भाई हरीजी चौहान के नाम से आवंटित है। इसको लेकर जिलाधिकारी ने नगर थाने को संदिग्ध व्यक्ति पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है। साथ ही कहा है कि इस नम्बर से सतर्क रहने की आवश्यकता है। ऐसे किसी भी मैसेज भेजने वाले पर यकीन मत करें। प्रशासन को इसकी सूचना जरूर दें।

बताते चलें कि जिले के करीब 3 दर्जन से अधिक गांवों में साइबर अपराधी पल रहे हैं। शहरों में भी इनकी संख्या बहुतायत है। लोगों को मूर्ख बनाकर उन्हें लूटना ही इनका मुख्य पेशा है। इन अपराधियों ने इस धंधे से अकूत सम्पत्ति अर्जित कर ली है। सूत्रों के मुताबिक इन्हें कुछ राजनीतिक लोगों की सरपरस्ती भी हासिल है। जिसके कारण पुलिस प्रशासन इनपर सीधे हाथ डालने में कतराते हैं। जिसका नतीजा है कि ये खुलेआम लोगों को अपना शिकार बनाते फिर रहे हैं।

Back to top button
error: Content is protected !!