जरा हट केजानकारीशेखपुरा

पहली शादी के ठीक 1 महीने बाद भागकर कोर्ट में कर ली दूसरी शादी, पुलिस ने बरामद कर कोर्ट को सौंपा

Sheikhpura: बेटी की शादी हर हर माँ-बाप का सपना होता है। परन्तु इसमें बेटियों की मर्जी भी शामिल होनी चाहिए। कभी-कभी बेटी की मर्जी के खिलाफ जबरदस्ती रचाया गया ब्याह महंगा साबित होता है। ऐसे में उन्हें बदनामी के सिवा और कुछ नहीं मिलता। ऐसा ही एक मामला बरबीघा नगर क्षेत्र के कोइरीबीघा मोहल्ले में सामने आया है।

जहां एक मजदूर पिता जयराम पासवान ने 4 मई 2022 को अपनी बेटी प्रीति कुमारी की शादी धूमधाम से पटना जिले के लड़के से कर दिया। ससुराल में कुछ दिन रहने के बाद 10 जून को वो अपने घर बापस लौटी। जिसके ठीक एक महीने बाद यानि 4 जून को वो अपने पड़ोसी संजय चौधरी के पुत्र रौशन चौधरी के साथ फरार हो गई। उसने अपने प्रेमी से पहले मंदिर फिर नोटरी में दुबारा शादी कर ली।

इधर पिता के द्वारा बरबीघा थाने में बेटी को बहला-फुसलाकर ले भागने की प्राथमिकी दर्ज कराई गई। जिसमें चार लोगों को नामजद कराया गया। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर दोनों को ढूंढना शुरू किया। पुलिसिया दबाब में आकर लड़की ने खुद को महिला थाने में सरेंडर कर दिया। पुलिस के द्वारा कोर्ट में उसकी गवाही कराई गई।

इस संबन्ध में मिली जानकारी में बताया गया कि लड़की ने कोर्ट को बताया कि वो बालिग है और अपनी मर्जी से अपने प्रेमी के साथ शादी कर इलाहाबाद में रह रही थी। उसने कोर्ट में शादी करने की बात भी बताई। साथ ही पहली शादी को मर्जी के खिलाफ बताते हुए अपने दूसरे पति के साथ ही जिंदगी व्यतीत करने की बात भी कही। रौशन कुमार के परिवारवालों ने भी स्वेच्छा से उसे कुबूल कर लिया।

Back to top button
error: Content is protected !!