शेखपुरासमाजसेवा

रेलवे स्टेशन के बाहरी हिस्से के पास ऊपरी पूल नहीं रहने से किसानों को हो रही है परेशानी,पटरी पार कर जाते हैं किसान,कई बार हुई है दुर्घटना।

शेखपुरा रेलवे स्टेशन को रेल मंत्रालय ने जंक्शन का दर्जा दिया। स्टेशन का पूरा प्रारूप ही बदल दिया गया है, लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी रेलवे स्टेशन से सटे इंदाय मुहल्ला के लोगों को हो रही है। इंदाय मुहल्ला की पूरी आबादी कृषि कार्य पर आधारित है और अधिकांश लोगों की खेती स्टेशन के पूर्वो छोर पर है। जहाँ जाने के लिए रेलवे लाइन को पार करना पड़ता है। जिसके कारण कई बार किसान रेल के चपेट में आ गए और जान गवानी पड़ी है। स्थानीय लोगों ने कई बार रेल मंत्री को पत्र लिखकर एक ऊपरी पूल बनाने का अनुरोध किया है। लेकिन कोई सुधार नहीं किया गया। दूसरी तरफ स्थानीय लोगों ने कहा कि पूल निर्माण नहीं होने से किसानों की खेती प्रभावित हो रही है। कई किसान डर से खेती करने नहीं जाते हैं, तो कई किसान जान जोखिम में डाल कर रेल पटरी पार कर अपने खेत में जाते हैं और खेती करते हैं। स्थानीय लोगों ने कहा कि अगर कोई अप्रिय घटना होती है तो रेलवे इसके लिए पूर्ण जिम्मेवार होगा। हालांकि रेल अधिकारी का कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सका है। लेकिन हाजीपुर जोनल रेलवे यात्री परामर्शदात्री की बैठक में भी सदस्यों ने सवाल किया है तो जबाब में जांच कराने की बात कही गई है। किसान आशीष कुमार ने कहा कि रेल की चपेट में आने से हमेशा दुर्घटनाए होती रहती है। वहीं राजद नेता शम्भू यादव ने कहा कि रेल मंत्रालय से लेकर क्षेत्रीय सांसद से कई बार अनुरोध पत्र भेजा गया। लेकिन रेल पटरी के ऊपर पूल निर्माण की दिशा में कोई कार्रवाई नहीं हो सकी।

Back to top button
error: Content is protected !!