अपराधनालंदाशेखपुरा

फोर व्हीलर गाड़ी के लिए जहर देकर विवाहिता की ले ली जान, लड़की के पिता ने ससुरालवालों के खिलाफ दर्ज कराई प्राथमिकी

Sheikhpura: दहेज में फोर व्हीलर गाड़ी के लिए दहेजलोभियों के द्वारा एक विवाहिता को जहर देकर मारने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले को लेकर बीते गुरुवार को लड़की के पिता के द्वारा केंवटी थाने में केस दर्ज भी किया गया है। मामला बरबीघा प्रखंड के पोलहरपर गांव का है, जहां बिगत 4 जनवरी को विवाहिता को चाय में जहर देकर मौत के घाट उतार दिया गया।

इस संबन्ध में लड़की के पिता नालंदा जिले के सिलाव थाना क्षेत्र के थरथरी बीघा गांव निवासी इंद्रजीत कुमार ने बताया कि 7 जून 2017 को धूम-धाम से उनकी पुत्री कंचन की शादी पोलहरपर गांव निवासी रामविलास यादव के पुत्र जितेंद्र कुमार से हुई थी। शादी के 1 महीने बाद ही बेटी के ससुराल वाले फोर व्हीलर गाड़ी के लिये उसे प्रताड़ित करने लगे। सामाजिक स्तर और काफी समझाने-बुझाने के बाद भी वे लोग नहीं माने और गाड़ी नहीं मिलने पर उनकी बेटी को जहर देकर मारने की बात की। इसके बाद कंचन कुमारी ने मजबूर होकर ससुराल वालों के खिलाफ बिहारशरीफ न्यायालय में दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दायर कर दिया और पिता के घर ही रहने लगी।

न्यायालय के आदेश के बाद भी जब वे लोग हाजिर नहीं हुए तो उनलोगों की गिरफ्तारी के लिये गैर जमानतीय वारंट निकल गया। इसके बाद बेटी के ससुरालवालों ने साजिश के तहत माफी मांगते हुए 3 जनवरी को उसे अपने साथ ले गए। ससुराल आने के एक दिन बाद ही कंचन की तबियत अचानक बिगड़ गई। जिसके बाद उनलोगों ने उसे पटना स्थित जीवन दीप अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां 5 जनवरी को उसने दम तोड़ दिया। कंचन के मरने के बाद ससुराल वालों ने उसके मायके के लोगों को इसकी सूचना दी।

मायके वालों के पटना पहुंचने के बाद आगम कुआं थाना पुलिस की मदद से मृतका पोस्टमार्टम कराकर लाश उन्हें सौंप दिया गया। मृतका के पिता ने आगम कुआं थाना पुलिस पर बिना पूछ-ताछ किये ही आरोपियों को भगाने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज किया है। इस संबन्ध में थानाध्यक्ष महेश सिंह ने बताया कि दर्ज प्राथमिकी के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नही जाएगा।

Back to top button
error: Content is protected !!