जागरूकताशेखपुरास्वास्थ्य

ऐसे जाहिलों की बजह से अधूरा पड़ रहा टीकाकरण अभियान, जिला प्रशासन को इस पर ध्यान देने की जरूरत, स्वास्थ्य कर्मियों को करनी पड़ रही मशक्कत

Sheikhpura: एक बार फिर से पूरे देश में कोरोना के नए स्वरूप ओमिक्रोन का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में राज्य सरकार जल्द से जल्द अपने नागरिकों का वैक्सीनेशन कर इस संभावित खतरे को कम करने की पुरजोर कोशिश में लगी है। राज्य सरकार के निर्देश पर जिलाधिकारी इनायत खान ने भी इस टारगेट को पूरा करने के लिये अपने पूरे सरकारी अमले को सड़क पर उतार दिया है। इसमें सभी संबंधित सरकारी विभागों के कर्मियों की मदद ली जा रही है, ताकि जिलेवासियों का जल्द से जल्द टीकाकरण किया जा सके।

मतदाता सूची में शामिल हर व्यक्ति को कोरोना टीका लगाने का है निर्देश
जिलाधिकारी के द्वारा मतदाता सूची में शामिल हर व्यक्ति को ढूंढ-ढूंढ कर टीका लगाने का निर्देश जारी किया गया है। इसके लिये जगह-जगह नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरुक किया जा रहा है।

स्वास्थ्य कर्मियों के द्वारा शहर एवं गांव में घर-घर जाकर लोगों को टीके का पहला एवं दूसरा डोज लगाया जा रहा है। सड़कों पर गुजरने वाले राहगीरों, वाहन चालकों, रिक्शा चालकों, ठेला भेंडरों, दुकानदारों, दिहाड़ी मजदूरों को जागरूक कर उन्हें टीका दिया जा रहा है।

कुछ जाहिलों की बजह से अधूरा पड़ रहा अभियान
वहीं दूसरी तरफ इस अभियान में शामिल कर्मियों को रोजाना तरह-तरह की मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। टीका कर्मियों के लाख समझाने के बाद भी कुछ लोग टीका नहीं लगवाने की जिद पर अड़े रहते हैं। ये लोग इतने जाहिल हैं कि टीके की लाख अहमियत समझाने के बाबजुद भी टीका लगवाने को राजी नहीं होते हैं।

उल्टे स्वास्थ्य कर्मियों से ही उलझ पड़ते हैं। इन लोगों के कारण सरकार के द्वारा लोगों की जिंदगियों को बचाने का यह अभियान फेल होता नजर आता है। सोमवार को ऐसे ही एक जाहिल इंसान से स्वास्थ्य कर्मियों का पाला पड़ गया।

ऑटो चालक को समझाते डॉक्टर व स्वास्थ्य कर्मी

जिला प्रशासन को ऐसे लोगों पर ध्यान देने की जरूरत
दरअसल बरबीघा अस्पताल में कार्यरत्त आयुष चिकित्सक डॉ रणधीर राज GNM कॉलेज में अध्ययनरत्त दो छात्राओं पावनी और निशु के साथ सड़कों की खाक छानकर लोगों को टीका लगा रहे थे। इसी क्रम में पोस्टऑफिस मोड़ के पास एक ऑटो चालक से भी उन्होंने टीके की जानकारी ली तो उसने बताया कि उसने अभी तक टीका नहीं लगवाया है।

टीका नहीं लगवाने की जिद्द पर अड़ा ऑटो चालक

टीका नहीं लगवाने की जिद्द पर अड़े प्रखंड क्षेत्र के जगदीशपुर गांव निवासी ऑटो चालक संतोष कुमार ने इसकी कोई ठोस बजह भी नहीं बताई। अब ऐसे में अगर भविष्य में इसे कोरोना का इन्फेक्शन हो गया तो ये न जाने और कितने लोगों को संक्रमित कर देगा। जिला प्रशासन को ऐसे लोगों को चिन्हित कर इस ओर ध्यान देने की जरूरत है। ताकि सरकार का ये अभियान अधूरा न रह जाये।

Back to top button
error: Content is protected !!