चुनावराजनीतिशेखपुरा

तेउस पंचायत में शांतिपूर्ण व निष्पक्ष मतदान प्रशासन के लिए बना चुनौती, तरह-तरह के हथकंडे अपनाकर चुनाव में खलल डालने की हो रही कोशिश

Sheikhpura: बरबीघा प्रखंड में बुधवार 24 नवंबर को पंचायत चुनाव होने वाला है। लोकतंत्र की सबसे छोटी इकाई के इस चुनाव में शांतिपूर्ण व निष्पक्ष मतदान प्रशासन और मतदाता दोनों के लिए चुनौती भरा कार्य है। एक तरफ जहां जिला प्रशासन के द्वारा चुनाव को शांतिपूर्ण सम्पन्न कराने हेतु हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ कुछ असामाजिक तत्व इस चुनाव में बाधा उत्पन्न करने की कोशिश में भी जुटे हैं।

ताजा मामला तेउस पंचायत का है, जहां तरह-तरह के हथकंडे अपनाकर मतदाताओं को दिग्भर्मित करने की कोशिश की जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक तेउस गांव में एक प्रत्याशी के दबंग समर्थक बौखला गए हैं। वे इस बार चुनाव में हर हाल में अपने प्रत्याशी को जीत दिलाने की कोशिश में जुटे हैं।

सूत्रों के अनुसार उनके द्वारा गांव में किसी भी बूथ पर किसी विरोधी का पोलिंग एजेंट बैठने नहीं देने का ऐलान किया गया है। इस असफल रणनीति को सफल बनाने के लिये और ग्रामीणों को डराने के लिए गांव के बाहर से 15-20 हथियारबंद आदमी बुलाये गए हैं। जो गांव में घूमकर इस साजिश को अंजाम देने में जुटे हैं। जिसके कारण यहां के मतदाता व ग्रामीण काफी डरे सहमे हैं।

सूत्रों ने यह भी बताया कि पुलिस को भी इस बात की पूरी जानकारी है। इसको लेकर गांव में कई बार छापेमारी भी हुई है, परन्तु पुलिस के गांव में घुसते ही उन्हें सूचना मिल जाती है और वे अपने लोगों के घरों में छुप जाते हैं। नतीजा हर बार पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ जाता है।

बताते चलें कि इस पंचायत में बूथ संख्या 1 से 16 तक कुल 16 मतदान केंद्र हैं। जिनमें से बूथ संख्या 5 से लेकर 13 तक प्रशासन को अधिक चौकसी की जरूरत है। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि पुलिस व प्रशासन इन चुनौतियों से किस तरह निपटती है और इस पंचायत में चुनाव कितना शांतिपूर्ण और निष्पक्ष सम्पन्न हो पाता है।

Back to top button
error: Content is protected !!