दुर्घटनालापरवाहीशेखपुरा

सड़क के बीचों-बीच झूल रहा था 33 हजार वोल्ट का तार, पुलिसकर्मी हो गए दुर्घटना के शिकार, नहीं पहना होता हेलमेट तो कट जाती गर्दन

Sheikhpura: बिजली विभाग की लापरवाही के कारण आज रविवार को एक पुलिस कर्मी दुर्घटना के शिकार हो गए। जिन्हें आनन-फानन में स्थानीय लोगों के द्वारा रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां चिकित्सकों के द्वारा इलाज के बाद उनकी स्थिति अब खतरे से बाहर बताई जा रही है। घायल पुलिसकर्मी की पहचान पप्पू कुमार के रूप में हुई है, जो बरबीघा के मिशन ओ पी थाने में कार्यरत्त हैं।

इस संबन्ध में घायल सिपाही ने बताया कि वे पंचायत चुनाव को लेकर थाने से लॉग बुक में इंट्री कराने एसकेआर कॉलेज जा रहे थे। बरबीघा नगर क्षेत्र स्थित एनएच 82 से कॉलेज जाने वाले रास्ते के बीचों-बीच 33 हजार वोल्ट का एल्युमिनियम का तार झूल रहा था। बाइक चलाने के क्रम में वो लटके तार को देख नहीं सके और उससे टकरा गए। इस दुर्घटना में उनके कई दांत टूट गए, वहीं मुंह में कई टांके भी लगाने पड़े।

बिजली मिस्त्री द्वारा काटकर सड़क से हटाया गया तार और दुर्घटना स्थल पर मौजूद निशान

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि अगर उन्होंने हेलमेट नहीं पहना होता तो उनकी गर्दन कट जाती। गनीमत ये रही कि लटके हुए तार में करेंट प्रवाहित नहीं था, नहीं तो अनहोनी से भी इंकार नहीं किया जा सकता था। हालांकि इस दुर्घटना की सूचना मिलते ही विद्युत विभाग के कर्मी के द्वारा तुरन्त ही तार को वहां से काटकर हटा दिया गया। पर इस तरह की लापरवाही कहीं से भी उचित प्रतीत नहीं होती, जो किसी की जान पे बन जाए। विभाग के बड़े अधिकारिओं को इस मामले को संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई की जरूरत है।

Back to top button
error: Content is protected !!