जानकारीप्रशासनशेखपुरा

सभी बैंकों को अपने सीडी रेसीओ को बढ़ाकर 80% करने का दिया गया निर्देश, आवेदकों को ऋण नहीं देने के कारण किया नाराजगी व्यक्त

Sheikhpura: समाहरणालय स्थित मंथन सभागार में कल बुधवार को जिला स्तरीय परामर्शदात्री समिति के द्वारा सभी बैंकों के शाखा प्रबंधक के साथ समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें शाखा प्रबंधकों को अपने-अपने बैंक से संबंधित एटीएम को कैश के साथ चालू रखने का आदेश दिया गया। साथ ही सभी बैंकों को अपने सीडी रेसीओ को बढ़ाकर 80% करने का निर्देश दिया गया। बताते चलें कि बैंकों का क्रेडिट डिपोजिट 184456 लाख एवं एडवांस 184456 लाख के अनुसार सीडी रेसियो मात्र 40% है, जो निर्धारित लक्ष्य से बहुत कम है। जिसे कम से कम 80% करने का आदेश दिया गया है।

बैठक में यह भी बताया कि वर्ष 2021-22 में पीएमईजीपी योजना के तहत कुल 75 लाभार्थियों के लक्ष्य के विरूद्ध कुल 108 आवेदन प्राप्त हुए। जिसमें 29 आवेदन स्वीकृत किया गया एवं 9 आवेदक को 20.01 लाख रूपया ऋण दिया गया। साथ ही भारतीय स्टेट बैंक, यूनियन बैंक, पीएनबी बैंक, यूको बैंक, इंडियन बैंक, आईडीबीआई, बैंक ऑफ बड़ौदा, बंधन बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ इडिया, सेंट्रल बैंक के द्वारा एक भी आवेदक को ऋण नहीं देने के कारण नाराजगी भी व्यक्त किया गया। मछली पालन योजना के तहत केनरा बैंक को छोड़कर किसी बैंक द्वारा लोन नहीं दिया गया। इस स्थिति में सुधार के लिए सभी उपस्थित पदाधिकारिओं को आवश्यक निर्देश भी दिया गया। इस बैठक में उप विकास आयुक्त सत्येंद्र प्रसाद सिंह, वरीय उपसमाहर्ता अमित कुमार, डीआरडीए निदेशक, शांति भूषण एलडीएम, नावार्ड डीडीएम अमृत कुमार वर्णबाल, गव्य विकास पदाधिकारी के साथ बैंकों के शाखा प्रबंधक मौजूद थे।

Back to top button
error: Content is protected !!