जन-कल्याणशेखपुरास्वास्थ्य

संवर्धन कार्यक्रम के अंतर्गत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण संपन्न, कुपोषण से लड़ने की तैयारी

Sheikhpura: नीति आयोग द्वारा चयनित आकांक्षी जिले में संवर्धन कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए चयनित आंगनवाड़ी केन्द्रों से संबंधित आशा सेविका एवं एएनएम के प्रशिक्षण शिविर का गुरुवार को उद्घाटन किया गया। सिविल सर्जन डॉ कृष्ण मुरारी प्रसाद सिंह और यूनिसेफ के राज्यस्तरीय प्रशिक्षक बृंदा किराडू के द्वारा सिविल सर्जन के सभागार में इसका शुभारंभ किया गया।

जिसमें सिविल सर्जन के द्वारा बताया गया कि स्वास्थ्य विभाग, आईसीडीएस, पिरामल स्वास्थ्य, यूनीसेफ, डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय, सेंटर ऑफ एक्सिलेंसी न्यू दिल्ली, चाइल्ड डिपार्टमेंट पीएमसीएच के सहयोग से यह महत्वपूर्ण कार्यक्रम लागू किया गया है। जिसमें समुदाय आधारित प्रबंधन के माध्यम से बच्चों को कुपोषण से बचाने में मदद करेगा। वहीं यूनिसेफ से राज्य स्तरिय प्रशिक्षक के द्वारा संवर्धन कार्यक्रम को जमीनी स्तर पर लागू करने हेतु कार्यक्रम के बारे में चरणबद्ध तरीके से जानकारी दी गई। इस प्रशिक्षण के दौरान कुपोषण के कारण और वर्तमान स्थिति, गंभीर कुपोषण से पीड़ित बच्चे की पहचान, अति गंभीर कुपोषित बच्चों को समुदाय आधारित प्रबंधन, समुदाय के बीच पोषण शिविर का आयोजन आदि विषयों की जानकारी दी गई।

साथ ही पिरामल के नीरज कुमार के द्वारा संवर्धन कार्यक्रम के दस चरणों पर विस्तृत जानकारी दी गई। डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय विश्वविद्यालय से जिला पोषण सलाहकार कमल किशोर सिंह द्वारा बच्चों के पोषण स्तर को बढाने में खाद्य समूह पर विशेष जानकारी दी गई एवं गाँव स्तर पर आसानी से उपलब्ध खाद्य समाग्रियों को बच्चों को उम्र के अनुसार देने पर विशेष बल दिया गया।

Back to top button
error: Content is protected !!