अपराधचुनावशेखपुरा

मुखिया प्रत्याशी बनने पर अंजाम बुरा होने की मिली धमकी, न्यायालय में परिवाद दायर

Sheikhpura: बिहार पंचायत चुनाव की घोषणा होते ही सभी भावी प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमाने में जुट गए हैं। साम, दाम, दंड एवं भेद के साथ गांवों में राजनीति भी शुरू हो गई है। वहीं अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए धमकी देने का दौर भी शुरू हो गया है। ताजा मामला बरबीघा प्रखंड के तेउस गांव का है। जहां एक भावी महिला प्रत्याशी ने कोर्ट में परिवाद दायर कर जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाई है। दर्ज परिवाद के अनुसार तेउस गांव निवासी उपेंद्र कुमार की पत्नी नीतू देवी पंचायत चुनाव में मुखिया पद पर चुनाव लड़ना चाहती है।

इस बात से नाराज होकर गांव की एक अन्य भावी मुखिया प्रत्याशी शिंकु देवी, उनके पति शिवपूजन राम, सुरेन्द्र प्रसाद सिंह के पुत्र गोपाल कुमार एवं सदानंद प्रसाद सिंह ने नीतू देवी के घर आकर चुनाव नहीं लड़ने की धमकी है। साथ ही चुनाव लड़ने पर इसका अंजाम भुगतने की धमकी भी दी है। उन्होंने अपने परिवाद में लिखा है कि सभी आरोपी उदंड, बदमाश व कानून को अपने हाथ मे लेकर चलने वाला व्यक्ति है। नीतू देवी ने संभावित अनहोनी की आशंका व्यक्त करते हुए न्यायालय में यह परिवाद दायर किया है।

इस संबन्ध में सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नीतू देवी का चुनाव लड़ने की घोषणा करने की बात गांव के कुछ लोगों को नागवार गुजर रही है। वहीं इनके चुनाव लड़ने से उन्हें अपने प्रत्याशी की हार की चिंता भी सता रही है। इसी को लेकर उनलोगों ने ये धमकी दी है, ताकि डरकर नीतू देवी चुनाव न लड़ पाएं और आसानी से उनकी जीत हो जाये। पर शायद उन्हें ये नहीं मालूम कि ये पब्लिक है सब जानती है।

Back to top button
error: Content is protected !!