जन-समस्याशेखपुरा

शेखोपुरसराय पीएचसी को नए भवन की है सख्त जरूरत, बेड के अभाव में जमीन पर सोना मरीजों की मजबूरी

Sheikhpura: शेखोपुरसराय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को नए भवन को सख्त जरूरत है। भवन के अभाव में यहां के मरीजों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। खासकर महिला मरीजों को भारी फजीहत का सामना करना पड़ रहा है। आलम ये है कि बंध्याकरण कराने आई महिलाओं को जमीन पर सोना पड़ रहा है। हालांकि अस्पताल प्रशासन की तरफ से जमीन पर दरी आदि बिछाकर मरीजों को सहूलियत दी जाती है। पर बेड के अभाव में मरीजों को जमीन पर सोना मजबूरी हो जाती है।

इस संबंध में अस्पताल के प्रभारी चिकित्सक डॉ बिपिन कुमार ने बताया कि इस अस्पताल में मात्र 6 बेड हैं। मरीजों की संख्या ज्यादा होने के बाद इस तरह की परेशानी होना आम बात है। कभी-कभी पहले से अस्पताल में प्रसव कराने आई महिलाएं भर्ती होती हैं। वहीं बंध्याकरण के बाद मरीजों की भर्ती के बाद यह समस्या शुरू हो जाती है। उन्होंने यह भी बताया कि इन समस्याओं के बाबजूद मरीजों का बेहतर ख्याल रखा जाता है। जमीन पर दरी बिछाकर कमरे में पंखा भी लगवा दिया जाता है। साथ ही उन्हें अन्य कोई परेशानी न हो, इसका भी पूरा ख्याल रखा जाता है।

बताते चलें कि करीब डेढ़ साल से शेखोपुरसराय व चेवाड़ा पीएचसी का कार्य विभाग में लम्बित है। पूर्व में ही दोनों भवनों के निर्माण हेतु नापी बगैरह का कार्य भी पूरा हो गया है। पर नए भवन के निर्माण में देरी होने के कारण यहां के मरीजों एवं उनके परिजनों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Back to top button
error: Content is protected !!