अपराधशेखपुरा

गायब युवक की लाश मिलने के बाद ग्रामीणों ने किया एनएच 82 को जाम, हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी का मिला भरोसा

Sheikhpura: बरबीघा प्रखंड के जयरामपुर थाना क्षेत्र के तोयपर गांव से चार दिन पूर्व गायब युवक गोपाल कुमार की हत्या के विरोध में स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा सोमवार की शाम बरबीघा के श्री कृष्ण चौक को जाम कर दिया गया। सूचना पाकर पुलिस निरीक्षक सह बरबीघा थानाध्यक्ष जयशंकर मिश्र के नेतृत्व में पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुंचकर उग्र ग्रामीणों को समझाने में जुट गई। वहीं थोड़ी देर बाद बीडीओ भरत कुमार सिंह व एसडीपीओ कल्याण आनंद भी मौके पर पहुंच गए।

स्थानीय ग्रामीण हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग के साथ पुलिस अधीक्षक को घटनास्थल पर बुलाने की मांग डटे रहे। जिसके बाद वहां मौजूद पदाधिकारियों के द्वारा मृतक के परिजनों को आर्थिक मदद एवं अपराधियों की अबिलंब गिरफ़्तारी के आश्वासन के बाद ग्रामीणों का गुस्सा ठंडा हुआ। खबर लिखे जाने तक लाश को वहां से हटा दिया गया है। मौके पर मौजूद एसडीपीओ कल्याण आनंद ने बताया कि इस हत्याकांड के एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य अभियुक्तों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
क्या है पूरा मामला और क्या है हत्या का कारण?
बताते चलें कि तोयपर गांव निवासी भरत सिंह का 30 वर्षीय पुत्र गोपाल कुमार बिगत 16 सितंबर से लापता था। आज सुबह किसी ग्रामीण ने नालन्दा जिले के बिहारशरीफ सदर अस्पताल में लावारिश लाश की वारयल तस्वीर देखी तो परिजनों को इसकी जानकारी दी गई। परिजनों के द्वारा लाश की शिनाख्त के बाद लाश पोस्टमार्टम कराकर पुलिस ने लाश परिजनों को सौंप दिया। लाश के गांव पहुँचते ही परिजन चीत्कार करने लगे, वहीं उग्र ग्रामीणों ने गुस्से में एनएच 82 को जाम कर दिया।

इस संबन्ध में परिजनों से मिली जानकारी के मुताबिक मृतक को 16 सितंबर को कुछ युवक गांव से बुलाकर बाइक से अपने साथ ले गए थे। अगले दिन 17 सितंबर को नालंदा पुलिस को उसकी लाश मिली। परिजनों को इस बात की जानकारी सोमवार की सुबह किसी ने मोबाइल के माध्यम से दिया। मिली जानकारी के अनुसार मृतक का हत्यारों के साथ रुपये का लेन-देन था। इसी बात को लेकर हत्यारों ने बेरहमी से पहले पीटा फिर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी।

Back to top button
error: Content is protected !!