शेखपुराशोक सन्देश

तमाशा दिखाना पड़ा महंगा, युवक की मिट्टी में दबकर हुई मौत

Sheikhpura: कई बार गांव में लोगों को तमाशा दिखाने कुछ लोग आते हैं। हम सबने कई बार इस तमाशे को देखा व सुना होगा। इस तमाशे में मिट्टी के अंदर आदमी को दबाकर कई घण्टे रखा जाता है, फिर वो जिंदा बापस निकल जाता है। लोग आश्चर्य मानते हैं कि ये कैसे हुआ? गांव के लोगों के बीच ये तमाशा काफी दिनों तक चर्चा का विषय भी रहता है। मगर इस तमाशे में खेल दिखाने वाले से जरा सी चूक होने पर कभी-कभी जान से हाथ धोना भी पड़ सकता है। ऐसे ही एक तमाशे के चक्कर में बीती रात्रि बरबीघा थाना क्षेत्र के मधेपुर गांव में एक युवक की मौत हो गई।

मृतक की पहचान बगल के गांव बीरपुर निवासी रामलगन रविदास के पुत्र धीरज कुमार के रूप में हुई है। मृतक तमाशा मंडली का ही सदस्य था। जिसे तमाशे के क्रम में गुरुवार की रात्रि 12 बजे जमीन में गाड़ा गया था। 24 घण्टे बीतने पर शुक्रवार की रात्रि 12 बजे जब मिट्टी हटाकर उसे निकाला गया, तो उसके प्राण-पखेरू उड़ चुके थे। इस घटना के बाद गांव में हाहाकार मच गया। सूचना पाते ही बरबीघा थानाध्यक्ष जयशंकर मिश्र के नेतृत्व में पुलिस के जवान भी मौके पर पहुंचे। मिली जानकारी के मुताबिक मृतक के परिजनों ने प्राथमिकी दर्ज करवाने से मना कर दिया। जिसके बाद पुलिस वहां से बापस लौट गई।

Back to top button
error: Content is protected !!