खेती-बाड़ीशेखपुरा

अब ड्रोन के माध्यम से खेतो में होगा कीटनाशक दवा का छिडकाव, कृषि विज्ञान केंद्र में किया गया प्रदर्शन

Sheikhpura: जिला कृषि विज्ञान केंद्र अरियरी के द्वारा कल बुधवार को ड्रोन के माध्यम से खेतो में कीटनाशक दवा के छिडकाव का प्रदर्शन किया गया। कृषि विज्ञान केंद्र स्थित फार्म में लगे फसल पर ड्रोन से कीटनाशक का छिडकाव किया गया। इस प्रदर्शन को देखने के लिए जिला कृषि विज्ञान केंद्र के आसपास के बड़ी संख्या में किसान जमा हुए। किसानों ने इस प्रदर्शन को आश्चर्य भरी आँखों से देखा।

इस संबन्ध में कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ विनय कुमार मंडल ने बताया कि यह ड्रोन 6 लाख से साढ़े 6 लाख रूपये का है। इसके प्रयोग के लिये किसानों को सरकारी मदद की आवश्यकता होगी। अभी किसानों को यह ड्रोन उपलब्ध कराने को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है। उन्होंने बताया कि ड्रोन से कीटनाशक और खरपतवार नाशक दवा का छिडकाव बहुत ही सरल है। इसे दूर से ही संचालित किया जाता है, इससे छिडकाव में किसानो समय और श्रम दोनों बचेगा। बताते चलें कि ड्रोन के माध्यम से कम दवा और पानी के द्वारा अधिक छिडकाव सम्भव है। इससे छिडकाव के समय किसानों को कीटनाशक के दुष्प्रभाव का खतरा भी शून्य हो जाता है। भारत सरकार के नगर विमानन मंत्रालय से गरुड प्राइवेट कम्पनी को इस ड्रोन को उड़ाने की अनुमति प्रदान की गई है। हालांकि अभी इसका व्यवसायिक प्रयोग शुरू होने में बिलम्ब है। किसानों को खुद से इसका प्रयोग करने के लिए अभी और इंतजार करना होगा। इस मौके पर कृषि विज्ञान केंद्र के कृषि वैज्ञानिक, अधिकारी और कर्मी भी मौजूद थे।

Back to top button
error: Content is protected !!