लापरवाहीशेखपुरा

राशन कार्ड का नम्बर वही पर उपभोक्ता का नाम, खानदान और जाति बदल गई, जानिये कैसे हो रहा खेल

Sheikhpura: अभी तक आपने जिले के सभी प्रखण्डों में जन वितरण प्रणाली में गड़बड़ी एवं डीलरों की मनमानी की शिकायत ही सुन रहे थे। आज आपको एक नई कहानी बता रहे हैं। ये मामला बरबीघा नगर परिषद क्षेत्र के वार्ड सं 3 का है। जहां के डीलर सुरेश साव ने मनमानी कर राशन कार्ड में उपभोक्ता का नाम, खानदान और जाति भी बदलबा दिया है।दरअसल विमला देवी के नाम से राशन कार्ड बना हुआ था, जिसका नम्बर 10267086003000810018 है। जिसमें परिवार के कुल 17 सदस्यों का नाम दर्ज था।

मिली जानकारी के मुताबिक मार्च 2021 तक विमला देवी को अनाज भी दिया गया था। पर उसके बाद उस राशन कार्ड में उपभोक्ता का नाम बदलकर गायत्री देवी हो गया। पति का नाम सूर्यनारायण पांडे से बदलकर बिरेन्द्र साव हो गया। 17 यूनिट के जगह अब उसमें मात्र 7 यूनिट है। इतना ही नहीं नए राशन कार्ड में एक नाम विशाल कुमार का भी है, जो पुराने कार्डधारी विमला देवी का पोता है पट उसके पिता का नाम बिरेन्द्र साव लिखा है। वहीं एक अन्य नाम विश्वजीत कुमार भी दर्ज है, जो विमला देवी का बेटा है, पर उसके पिता का नाम भी बिरेन्द्र साव लिखा है। इस बाबत विमला देवी के पुत्र जितेंद्र पांडे ने बताया कि कई बार एमओ एवं अन्य अधिकारिओं से इस बात की शिकायत के बाबजूद अभी तक सुधार नहीं हो पाया है। उन्होंने कहा कि गरीब परिवार का नाम हटवाकर अपनी जाति के आदमी को फायदा पहुंचाया जा रहा है। ये तो मात्र एक उदाहरण है, न जाने पूरे जिले में ऐसे कितने मामले होंगे। ऐसे में सवाल ये उठता है कि इन डीलरों पर आज तक कार्रवाई क्यों नहीं होती।

Back to top button
error: Content is protected !!