खास खबरजरा हट केशेखपुरा

भाभी की मांग में चचेरे देवर ने भरा सिंदूर, सरपंच, मुखिया व परिजन बने शादी के गवाह

Sheikhpura: शेखोपुरसराय प्रखण्ड के बेलाव पंचायत के लक्ष्मीपुर गांव में एक युवक ने अपने चचेरे भाई की पत्नी से शादी कर ली। लड़की एवं लड़के के परिजनों के अलावे स्थानीय जन-प्रतिनिधि एवं ग्रामीण इस शादी के गवाह बने।

मिली जानकारी के मुताबिक लक्ष्मीपुर गांव के स्व रविंद्र प्रसाद के पुत्र इंदल कुमार की शादी अरियरी प्रखंड के कसार गांव की काजल कुमारी से चार महीने पूर्व हुई थी। शादी के बाद इंदल कुमार कमाने के लिए दिल्ली चला गया। इसी दरम्यान इंदल के चचेरे भाई स्व बिनोद महतो के पुत्र गौरव कुमार ने अपनी भाभी को प्रेमजाल में फंसा लिया। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दोनों के बीच अबैध संबंध भी कायम हो गया।

शादी में शरीक परिजन

कहते हैं “इश्क़ और मुश्क छिपाए नहीं छिपते” और हुआ भी यही, घरवालों ने दोनों को रंगेहाथ पकड़ लिया। जिसके बाद इंदल कुमार को भी अपनी पत्नी की करतूत पता लगा। बात बढ़ गई तो पंचायत तक पहुंच गई। जिसके बाद गौरव, इंदल और काजल के परिजनों को एक साथ बैठाकर बात हुई। जिसमें सभी ने आपसी सहमति से काजल और गौरव की दुबारा शादी कराने का फैसला किया। इंदल ने भी इस फैसले पर अपनी हामी भर दी। जिसके बाद सरपंच आल्हा पासवान, मुखिया पिंटू रविदास एवं परिजनों की मौजुदगी में काजल और इंदल का तलाकनामा बना, फिर वहीं सभी की मौजूदगी में गौरव ने भी अपनी भाभी काजल के मांग में सिंदूर भर दिया। इस शादी से जहां तीन जिंदगियां तबाह होने से बच गई वहीं दो प्रेमी भी एक हो गए।

Back to top button
error: Content is protected !!