शेखपुरासमाजसेवा

श्रमजीवी पत्रकार यूनियन का वार्षिक सम्मेलन सम्पन्न, “कोरोना काल में मीडिया की भूमिका” पर कार्यशाला का हुआ आयोजन

Sheikhpura: नगर क्षेत्र शेखपुरा के श्यामा सरोवर पार्क के समीप एक विवाह भवन में आज रविवार को जिला श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के वार्षिक सम्मेलन का आयोजन किया गया। यूनियन के अध्यक्ष एवं न्यूज़ 18 के संवाददाता अजीत कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में आयोजित इस सम्मेलन के मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक कार्तिकेय शर्मा थे। उनके साथ डीडीसी सत्येंद्र कुमार सिंह, एसडीओ निशांत कुमार, पूर्व सिविल सर्जन डॉ मृगेंद्र सिंह, सिविल सर्जन डॉ केएमपी सिंह, डीपीएम श्याम कुमार निर्मल भी मौजूद थे।

सभी आगत अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्वलित कर इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया। वहीं आगत अतिथियों को यूनियन के महासचिव एवं राष्ट्रीय सहारा के ब्यूरो नवीन कुमार, दैनिक जागरण के ब्यूरो अरुण कुमार साथी, गणनायक मिश्र आदि वरिष्ठ पत्रकारों के द्वारा पुष्प-गुच्छ एवं अंग-वस्त्र देकर सम्मानित भी किया गया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते डीपीएम श्याम कुमार निर्मल

उसके बाद इस सम्मेलन के मुख्य विषय “कोरोना काल में मीडिया की भूमिका” पर कार्यशाला में सभी ने अपनी बात रखी।

कार्यक्रम को संबोधित करते सिविल सर्जन डॉ केएमपी सिंह

डीपीएम एवं सिविल सर्जन ने कोरोना के पहले एवं दूसरे चरण में स्वास्थ्य विभाग की कड़ी मेहनत एवं मीडिया के सकारात्मक सहयोग की बात की। अनुमंडलाधिकारी ने सन 1918 में स्पेनिश फ्लू महामारी की याद दिलाते हुए कहा कि पहली लहर में भेंटिलेटर की जरूरत ज्यादा पड़ी, वहीं दूसरी लहर में ऑक्सीजन की जरूरत ज्यादा पड़ी। उन्होंने राज्य सरकार को धन्यवाद देते हुए कहा कि सरकार ने इन कमियों को तुरन्त पूरा कर जनता की पूरी सुरक्षा की है।

कार्यक्रम को संबोधित करते एसडीओ निशांत कुमार

साथ ही उन्होंने जिले की चिकित्सा व्यवस्था को बेहतर बताते हुए कहा कि जिले में मौजूद कोविड केअर सेंटर में दूसरे जिलों के लोग भी इलाज कराने आये और ठीक होकर घर गए। इसके अलावे उन्होंने पत्रकारों को कहा कि आपकी जागरूकता वाली खबरों के कारण लोग इतने जागरूक हुए कि जिले में टीका कम पड़ गया,पर केंद्रों पर लोगों का आना कम नही हुआ।

कार्यक्रम को संबोधित करते पूर्व सिविल सर्जन डॉ मृगेंद्र सिंह

पूर्व सिविल सर्जन ने दवाई और कड़ाई एवं मास्क ऑफ शेखपुरा पर जोर देते हुए मास्क पहनने की विधि के बारे में भी बताया। साथ ही सकारात्मक खबरों के प्रचार-प्रसार के लिए मीडिया को धन्यवाद दिया। वहीं डीडीसी ने कहा कि मीडिया ने हर मौके पर फ्रंटलाइन वर्कर के तौर पर कार्य किया है।

कार्यक्रम को संबोधित करते डीडीसी सत्येंद्र कुमार सिंह

मीडिया की इस भूमिका को किसी भी स्तर पर नकारा नहीं जा सकता। बाहर से आये मजदूरों को मिल रही सुबिधाओं के बारे में बताने की बात हो या जिलेवासियों को टीकाकरण के लिए जागरूक करने की बात हो। मीडिया ने सभी क्षेत्रों में प्रशासन की काफी सहायता की है। उन्होंने कहा कि एक समय था जब स्वास्थ्य कर्मियों को गांवों में भगा दिया जाता था। आमलोगों के बीच फैली गलत अफवाहों को दूर करने में मीडिया की भूमिका काफी सराहनीय रही है। इस मौके पर उन्होंने सभी पत्रकारों से निगेटिव न्यूज़ का प्रचार-प्रसार बन्द करने का अनुरोध भी किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते मुख्य अतिथि एवं पुलिस कप्तान कार्तिकेय शर्मा

जबकि मुख्य अतिथि पुलिस कप्तान ने कहा कि विश्वयुद्ध के बाद शायद ही कोई इतनी बड़ी त्रासदी आई, जिसने पूरे विश्व को झकझोर कर रख दिया। उन्होंने कोरोना काल में मीडिया की भूमिका को याद करते हुए कहा कि कोरोना के बीच लगे लॉक डाउन में जब सभी लोग घर में लॉक थे, तब सड़कों पर पुलिस-प्रशासन एवं मीडिया कर्मियों के सिवा कोई नजर नहीं आता था। मीडिया कर्मियों ने अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों तक घर बैठे सूचनाओं को पहुंचाने में सरकार एवं प्रशासन की काफी मदद की। वहीं डिजिटल मीडिया की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना काल में डिजिटल मीडिया का भी काफी अहम योगदान रहा। साथ ही उन्होंने मीडिया कर्मियों से ऐसे ही सच्चाई और निर्भीकता के साथ लोगों की समस्याओं को प्रशासन तक पहुंचाने की अपील की। कार्यक्रम के अंत में अध्यक्ष अजीत कुमार सिंहा ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए कहा कि कोरोना काल में मीडिया कर्मियों ने अपनी जान दांव पर लगाकर लोगों तक सूचना पहुंचाने का कार्य किया है। साथ ही देश भर में कोरोना के गाल में समाए मीडिया कर्मियों की आत्मा की शांति के लिए 1 मिनट का मौन भी रखा गया।

कार्यक्रम की समाप्ति के बाद मीडिया बन्धु

बताते चलें कि इस सम्मेलन को सफल बनाने में यूनियन के महासचिव एवं राष्ट्रीय सहारा के ब्यूरो नवीन कुमार का अहम योगदान रहा। इस कार्यक्रम में संबिल हैदर, संजय मेहता, डॉ सुखेंदु मोहन, शांति भूषण, अरविंद पांडे, कुमार सुबिद, रितेश सेठ, दीपक सिंह, धर्मेंद्र कुमार, पुष्पेंद्र कुमार, अरविंद कुमार सहित तमाम मीडिया कर्मी मौजूद थे।

Back to top button
error: Content is protected !!