जन-कल्याणशेखपुरा

5 साल में किऊल-गया सेक्शन पर ट्रैक दोहरीकरण का काम आधा ही हुआ, अब 5 माह में कैसे पूरा होगा बाकी का काम?

129 किलोमीटर के सेक्शन में 2023 तक दोहरी लाइन पर ट्रेनों के दौड़ने की जताई जा रही उम्मीद

Sheikhpura: किऊल-गया रेल खण्ड में इस साल 29 किलोमीटर रेल लाइन के दोहरीकरण का कार्य पूरा होने की उम्मीद है। किऊल-शेखपुरा के बीच दोहरीकरण का कार्य चल रहा है। बताते चलें कि किऊल-गया के बीच 129 किलोमीटर के इस सेक्शन में 2016 में डबलिंग का कार्य शुरू किया गया था। जिसके तहत पहले इस सेक्शन के सिंगल लाइन को इलेक्ट्रीफाइड किया गया। अक्टूबर 2018 से इस रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें भी दौड़ने लगी हैं।

किऊल-गया रेल खण्ड के दोहरीकरण कार्य रेलवे की महत्वांकांक्षी योजना है। लेकिन इस परियोजना पर काम काफी सुस्त गति से चल रहा है। ज्ञात हो कि पहले रेलवे ने 2021 तक इस सेक्शन में डबलिंग कार्य का पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया था। लेकिन अभी तक आधा काम भी नहीं हो सका है। इस परियोजना को चार चरणों में पूरा किया जाना है। फिलहाल शेखपुरा से किऊल के बीच दोहरीकरण का कार्य चल रहा है। कंक्रीट स्लीपर बिछा दिया गया है। अब ट्रैक बिछाना शेष रह गया है। ऐसा माना रहा है कि किऊल-गया रेलखंड पर डबल लाइन बिछाने का कार्य पूरा होने से पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है।

Back to top button
error: Content is protected !!