प्रशासनलापरवाहीशेखपुरा

प्रखण्ड कृषि कार्यालय में लगा है गंदगी का अंबार, जानें क्या है कारण?

Sheikhpura: बरबीघा प्रखण्ड कृषि कार्यालय की हालत बेहद खराब है। इस कार्यालय में गंदगी का अंबार पसरा हुआ है। बाउंडरी के अंदर जंगल उग गया है, जिसके कारण यहां काम करने वाले कर्मियों को सांप-बिच्छुओं का भय सताता रहता है। पानी के मोटर का पाईप महीनों से फटा पड़ा है, मेंटेनेंस के अभाव में दीवारों में दरारें साफ दिखाई देती हैं। वर्षों से भवन का रंगरोगन नहीं हो सका है।

ऊपरी तल्ले के दरबाजे पूरी तरह टूट गए हैं, जिससे हाल ही में चोरों ने अंदर घुसकर कार्यालय से कंप्यूटर भी चुरा लिया था। और तो और इस कार्यालय के अंदर के कमरों में भी साफ-सफाई का बेहद अभाव है। चारों तरफ गंदगी पसरा हुआ है। यहां के कर्मी इसी गंदगी में कार्य करने को मजबूर हैं। एक कर्मी ने हंसते हुए बताया कि 26 जनवरी और 15 अगस्त को यहां के कर्मी अपने खर्च पर कार्यालय के बाउंडरी में उगे झाड़ को कटवाते हैं।
क्या कहते हैं कर्मी?
इस संबन्ध में जब हमने यहां कार्यरत्त कृषि समन्वयक रजनीकांत से बात की तो उन्होंने बताया कि कार्यालय के लिए झाड़ू भी कर्मी अपनी जेब से खर्च कर मंगवाते हैं। उन्होंने बताया कि विभाग से भवन के रख-रखाव के नाम पर हर महीने लगभग 25000 की राशि देने का प्रावधान है। पर आज तक जिला से राशि का भुगतान नहीं किया गया है। जिला कृषि पदाधिकारी को लिखित शिकायत देने के बाबजुद आजतक इस पर कोई संज्ञान नहीं लिया गया है। आलम ये है कि बेहतर रख-रखाव के अभाव में धीरे-धीरे यह भवन जर्जर होता जा रहा है और इसकी उम्र भी कम हो रही है।

Back to top button
error: Content is protected !!