जरा हट केरोजगारशेखपुरा

रोजाना 9000 मास्क बना रही हैं जीविका दीदियां, आपदा को बनाया अवसर

कोविड-19 संक्रमण से आज पूरा विश्व जूझ रहा है। बिहार सहित पूरे देश में इसके दूसरे लहर से हाहाकार मचा हुआ है। शेखपुरा में भी धीरे-धीरे इस संक्रमण का दायरा बढ़ता जा रहा है। बाजार बंद हो रहे हैं, धंधा मंदा हो गया है, प्राइवेट नौकरियां छूट गई हैं। कुल मिलाकर कहिए तो लोगों की आर्थिक स्थिति दयनीय हो रही है। देश दूसरे लॉक डाउन की तरफ बढ़ रहा है। ऐसे समय में हमारे राज्य की जीविका दीदियों के लिए ये आपदा अवसर के रूप में तब्दील हो गया है। दरअसल राज्य सरकार ने इस संक्रमण को रोकने के लिए मास्क निर्माण का कार्य जीविका दीदियों को सौंप दिया है। जिसके बाद जिलाधिकारी इनायत खान के द्वारा सभी प्रखण्डों एवं नगर निकायों में मांग के अनुरूप यथा शीघ्र मास्क की आपूर्ति करने का निर्देश दिया गया है। जिसके बाद इनके द्वारा जिले के 9 केंद्रों पर बड़े पैमाने पर उत्तम क्वालिटी के मास्क निर्माण किया जा रहा है। इस संबन्ध में जीविका की डीपीएम ने बताया कि इस कार्य में करीब 100 जीविका दीदियां शामिल हैं। इनके द्वारा प्रतिदिन 9000 से अधिक मास्क बनाया जा रहा है। अभी तक 19000 मास्क बनाया जा चुका है। उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रखंडों से कुल 72000 मास्क का मांग किया गया है, जिसमें अभी 14000 मास्क की आपूर्ति कर दी गई है। मांग के अनुसार समय पर आपूर्ति करने के लिए जीविका दीदियों लगातार प्रयासरत्त हैं। उन्होंने आगे बताया कि इससे उनकी आर्थिक स्थिति भी सुधरेगी। साथ ही जीविका दीदियों में आर्थिक स्वावलंबन भी आएगा।

Back to top button
error: Content is protected !!