खास खबर/लोकल खबरप्रशासनशेखपुरा

जिला प्रशासन के द्वारा जारी रोस्टर का उल्लंघन कर रहे दुकानदारों पर हुई कड़ी कार्रवाई, कई दुकानें सील, जुर्माना भी लगाया गया

शेखपुरा जिले के शेखपुरा एवं बरबीघा नगर परिषद में जिला प्रशासन के द्वारा जारी रोस्टर का उल्लंघन कर खोले जा रहे दुकानों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया गया। जिलाधिकारी इनायत खान के निर्देश पर चलाये गए इस अभियान में कई दुकानों को सील किया गया साथ ही कई दुकानों से जुर्माना भी बसूला गया।
शेखपुरा नगर परिषद क्षेत्र में कई दुकानों को किया गया सील
शेखपुरा नगर परिषद क्षेत्र में आज अनुमंडल पदाधिकारी निशांत कुमार के नेतृत्व में दुकानों को सील करने की कार्रवाई की गई। जिसमें नगर परिषद के भी अधिकारी और कर्मचारी शामिल थे। इस अभियान में नगर परिषद क्षेत्र के रिमझिम वस्त्रालय, मेहंदी दुकान, स्मार्ट टेलर्स के साथ 10 से अधिक दुकानों को सील किया गया। वहीं दल्लू चौक के पास तीन दुकान एवं गिरीहिंडा बस स्टैंड के पास भी चार दुकानों को सील किया गया। इस बाबत अनुमंडल पदाधिकारी ने बताया कि जिलाधिकारी का स्पष्ट निर्देश है कि जो दुकानदार रोस्टर का पालन नहीं करेंगे, उनके दुकान को तत्काल सील करते हुए विधि सम्मत कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि कुछ दुकानदारों की मनमानी के कारण बाजार में भीड़ बढ़ती जा रही है। दुकानदार जिला प्रशासन के द्वारा जारी रोस्टर का पालन नहीं कर रहे हैं, जो अत्यंत खेद का विषय है। साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण का दूसरा चरण आदमखोर हो गया है। ऐसे में हम सभी को इससे एकजुट होकर लड़ना पड़ेगा। मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिये ही नियम बनाया गया है, ताकि लोग इस संक्रमण से दूर रहें। ऐसे लोग अपनी दुकानों में भीड़ लगाकर कोरोना संक्रमण को खुलेआम निमंत्रण दे रहे हैं, जो कहीं से भी माफी काबिल नहीं है। उन्होंने लोगों से सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के पालन करने का अपील भी किया है।
बरबीघा में भी नगर परिषद कर्मियों ने चलाया अभियान
वहीं बरबीघा में भी कार्यपालक पदाधिकारी विजय कुमार के नेतृत्व में नगर परिषद के कर्मियों के द्वारा यह अभियान चलाया गया। जिसमें विक्रम वस्त्रालय नामक दुकान को सील कर 1500 रुपया जुर्माना भी वसूला गया। इस दुकान में दुकानदार के द्वारा दुकान को बाहर से बन्द कर अंदर में लगभग 20 ग्राहकों को बैठाकर कपड़ा बेचा जा रहा था। दुकान में बैठे अधिकतर ग्राहक भी बिना मास्क के ही बैठे थे। इस संबन्ध में जानकारी देते हुए कार्यपालक पदाधिकारी ने बताया कि उन्होंने बताया कि इसके अलावे रेडीमेड कलेक्शन, आनंद वस्त्रालय एवं धर्मशाला के पास स्थित अजय वस्त्रालय से भी 1500-1500 रुपए जुर्माना वसूला गया। उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी के आदेश का उल्लंघन कर रहे सभी दुकानदारों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Back to top button
error: Content is protected !!