जानकारीशेखपुरा

कोरोना के कारण जेल में बंद कैदियों के परिजन आमने-सामने नहीं कर पाएंगे मुलाकात, सरकार ने घर बैठे बात करने की व्यवस्था की

शेखपुरा में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर अब जेल में बंद कैदियों के परिजन आमने-सामने मुलाकात नहीं कर सकते। सरकार के नये कोरोना गाइडलाइन के मद्देजनर इसपर रोक लगा दी गयी है। हालांकि जेल में बंद कैदियों से मिलने के लिए नयी व्यवस्था की गयी है। सरकार द्वारा बनाये गए ई-मुलाकात एप्प से परिजन कैदियों से बात कर सकेंगे। इसके कई फायदे हैं- एक ओर तो घर बैठे ही परिजन जेल में बन्द अपने लोगो से मिल सकेंगे। उधर सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन किये जाने से कोरोना के बचाव में भी मदद मिलेगी। इस सम्बन्ध में जेल अधीक्षक बिनोद कुमार सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा ई-मुलाकात पोर्टल पिछले साल ही बनाया गया था। इसपर परिजन अपने लोगो से बातचीत कर रहे हैं। यह सिलसिला यहाँ भी शुरू हो गया है। उन्होंने बताया कि राज्य कारा व सुधार सेवा की वेबसाइट पर जेल में बंद अपने परिजन का विवरण देकर ऑनलाइन मुलाकात कर सकते हैं। पूरा विवरण दिए जाने के बाद जेल प्रशासन द्वारा उनके इमेल या व्हाट्स एप्प पर मुलाकात की तिथि और समय दिया जाएगा। जेल द्वारा भेजे गए लिंक से बात नहीं होने पर स्मार्टफोन पर भी बात करायी जाती है। ऑनलाइन व्यवस्था के तहत कैदी के परिजन, रिश्तेदार और अधिवक्ता भी इसी माध्यम से कैदियों से बात कर सकते हैं। उन्होंने आगे बताया कि इस व्यवस्था के तहत जेल में पुरुष और महिला कैदी के लिए अलग अलग व्यवस्था की गयी है। इस सेवा का लाभ यहाँ जेल में बंद कैदी उठा रहे हैं। अब जेल में बंद अपने परिजन से मिलने के लिए लोगों को जेल के बाहर लम्बी कतार का सामना नहीं करना होगा।

Back to top button
error: Content is protected !!