शिक्षाशेखपुरा

जिले के शिक्षण संस्थान कुछ शर्तों के साथ आयोजित कर सकते हैं पूर्व निर्धारित परीक्षा, जिलाधिकारी ने दिया निर्देश

बिहार सरकार ने कोविड-19 संक्रमण के कारण राज्य के सभी सरकारी एवं निजी शैक्षणिक संस्थानों को 11 अप्रैल तक बंद रखने का निर्णय लिया है। जिसके बाद शेखपुरा में भी आपदा प्रबंधन समूह की एक बैठक आयोजित हुई। बैठक में लिए गए निर्णय के आलोक एवं जिलाधिकारी इनायत खान की समीक्षा उपरांत जिले के सभी सरकारी एवं निजी विद्यालय, महाविद्यालय, कोचिंग संस्थानों को बिहार में बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण मामलों के मद्देनजर 11 अप्रैल तक बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इस बात की जानकारी देते हुए डीपीआरओ ने बताया कि उक्त संस्थानों में कार्यरत शिक्षक या शिक्षकेतर कर्मी पूर्व की भांति कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कार्यस्थल पर उपस्थित रहेंगे। संस्थान प्रबंधन पूर्व से निर्धारित परीक्षाओं को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए निम्न शर्तों पर आयोजित कर सकेंगे।

  • सभी शैक्षणिक संस्थान परीक्षा संचालन करने के पूर्व एवं पश्चात संस्थानों को सेनेटाइज करना सुनिश्चित करेंगे।
  • संस्थान में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य रूप से करना होगा।
  • सभी संस्थानों के प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग एवं हैंड सेनेटाइजर की व्यवस्था सुनिश्चित करना होगा।
  • परीक्षा के दौरान सभी परीक्षार्थी, वीक्षक एवं केंद्र पर उपस्थित सभी कर्मी मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करेंगे।
  • कोविड-19 से उत्पन्न होने वाले लक्षण यदि किसी शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मी या परीक्षार्थी में दिखाई दे तो तत्काल चिकित्सीय सलाह की व्यवस्था करते हुए ससमय आवश्यक कार्रवाई की जाए।

Back to top button
error: Content is protected !!