खास खबर/लोकल खबरसमाजसेवा

विश्व स्तनपान सप्ताह के अवसर पर पुरुष वार्ड सदस्य के द्वारा चलाया गया जागरूकता अभियान

बरबीघा :- बरबीघा प्रखंड के पांक पंचायत के वार्ड नं 5 के प्रतिनिधि दीनानाथ कुमार के द्वारा बताया गया कि महिलाओं में स्तनपान कराने से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास एवं बच्चों में कुपोषण का शिकार नहीं होता है। स्तनपान कराने से बच्चों में डायरिया, निमोनिया या अन्य प्रकार की बीमारी से बचाव करता है। संस्थागत प्रसव के 1 घंटे के भीतर बच्चों को मां का स्तनपान सुनिश्चित करवाना चाहिए एवं केवल 6 माह तक स्तनपान कराने के लिए महिलाओं को जागरूक किया गया। हर बच्चे का यह अधिकार है, कि उसे मां का दूध मिले, जिससे कि बच्चे का शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक विकास को सुनिश्चित करता है, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को स्तनपान कराने से बहुत फायदा मिलता है,जैसे कि स्तन कैंसर, गर्भाशय कैंसर, रक्तस्राव एवं दूसरा गर्भ जल्दी नहीं ठहरता है तथा मां और बच्चों के बीच भावनात्मक लगाव देखने को मिलता है। स्तनपान सप्ताह के दौरान नया दौर परियोजना में शामिल वार्ड सदस्य इन सामुदायिक गतिविधियों एवं परिचर्चाओं के माध्यम से स्तनपान से संबंधित विषयों पर माता-पिता को जागरुक कर स्तनपान कराने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। इस परिचर्चा में सहयोग के रूप में C3 संस्था के सदस्य भी मौजूद रहे।

Back to top button
error: Content is protected !!