राजनीतिशेखपुरा

कांग्रेस के नए जिला अध्यक्ष के नाम पर कांग्रेसियों में असंतोष, आजाद हिंद आश्रम में असन्तुष्ट कार्यकर्त्ताओं की हुई बैठक

शेखपुरा जिला कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष सुंदर साहनी को बनाया गया है। जिसके लिये शेखपुरा कांग्रेस कमेटी के तमाम कार्यकर्ता एवं वरिष्ठ नेताओं में असंतुष्टि का भाव है। कार्यकर्त्ताओं ने कहा है कि 10 सालों में सुंदर साहनी का कांग्रेस के किसी भी क्रियाकलाप में कोई योगदान नहीं है और ना ही अपनी ओर से किसी को कार्यकर्ता के रूप में काग्रेस में शामिल किए हैं। ऐसे लोगों को शेखपुरा जिला के कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष बनाए जाने पर कांग्रेस पार्टी के लिए दुर्भाग्य की बात है।
सुंदर साहनी ऐसे व्यक्ति हैं जो कि दूसरे दलों से अपना तालमेल रखते हैं और कांग्रेस के लिए एक भी उत्तम कार्य नहीं किए हैं। दूसरे दल में रहने के बावजूद इन्हें शेखपुरा जिला के जिला अध्यक्ष बनाया जाता है तो यह बहुत ही दुखद है। कार्यकर्त्ताओं ने ये भी कहा है कि हमारा जिलाध्यक्ष ऐसा हो जो कांग्रेस का सक्रिय कार्यकर्ता हो और अपनी कांग्रेस पार्टी के लिए हमेशा योगदान दे एवं कांग्रेस पार्टी का समर्पित नेता हो। शेखपुरा जिला के और भी इस कमेटी में ऐसे बहुत से नेता हैं जो कांग्रेस के लिए समर्पित एवं कांग्रेस पार्टी के विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। ऐसे लोगों को छोड़कर एक दूसरे दल में रहने वाले व्यक्ति को जिला अध्यक्ष बनाना पार्टी की बदनामी है। कुमार सत्यजीत ऐसे नेता को जिला अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है जो कि पार्टी एवं कार्यकर्ता दोनों के लिए दुखद बात है।
इस बैठक में कांग्रेस के नेता श्रवण सिंह (अध्यक्ष राजीव गांधी पंचायती राज) मकेश्वर पासवान (अध्यक्ष अनुसूचीत जाति) जितेंद्र धारी( प्रदेश महासचिव राहुल गांधी विचार मंच) इम्तियाज अहमद (अध्यक्ष मानव अधिकार) सुमन कुमार (महासचिव राहुल गांधी विचार मंच शेखपुरा) नीरज चौहान (बरबीघा विधान सभा राहुल गांधी विचार मंच) प्रेम कुमार (सोशल मीडिया आईटी सेल) विनय सिंह, रविंदर सिंह, राजेश कुमार, उपेंद्र महतो, उमेश महतो, मोहम्मद इतद (प्रखंड अध्यक्ष चेवाड़ा) दयानंद यादव (पूर्व अध्यक्ष चेवाड़ा) इत्यादि लोग शामिल हुए।

Back to top button
error: Content is protected !!