खास खबर/लोकल खबरशेखपुरा

न्यायिक कार्य प्रारम्भ होने की तारीख बढ़ी, कोरोना का व्यापक असर

बिहार सरकार के लॉक डाउन की घोषणा के बाद उच्च न्यायालय पटना ने एक आदेश जारी कर 31 जुलाई तक सभी तरह के न्यायिक कार्य बंद करने की घोषणा किया था। सूबे में बढ़ते कोरोना संक्रमण और न्यायालय के भी कर्मियों के भी संक्रमित होने के बाद इस तिथि को 3 अगस्त तक बढ़ाया गया है। इस मामले पर जिला बिधिज्ञ संघ के महासचिव बिनोद कुमार सिंह ने एक पत्र जारी कर सभी अधिवक्ताओं, उनके लिपिकों और मुकदमे के पक्षकारों को सूचित किया है की उक्त तारीख तक किसी भी तरह का कोई भी न्यायिक कार्य नहीं होगा। सिर्फ रिमांड और रिलीज का कार्य न्यायिक पदाधिकारी अपने आवास से करेंगे, वकालतखाना भी बन्द रहेगा।

[metaslider id=3848]

Back to top button
error: Content is protected !!