जरा हट केजागरूकताजानकारीशिक्षाशेखपुरा

बिहार कौशल विकास मिशन योजना के तहत कुशल युवा कार्यक्रम से संबंधित सेंटर पर मैट्रिक एवं इंटर पास विद्यार्थियों को मुफ्त कम्प्यूटर शिक्षा, यहां करवाएं एडमिशन

कोरोना काल के पहले चरण के बाद बिहार सरकार ने शिक्षण संस्थानों को फिर से खोलने की इजाजत दी है। जिससे करीब एक से बन्द शिक्षण संस्थानों के संचालकों में खुशी की लहर दौड़ गई। बिहार कौशल विकास मिशन योजना के तहत कुशल युवा कार्यक्रम से संबंधित सेंटर पर मैट्रिक एवं इंटर पास विद्यार्थियों को मुफ्त कम्प्यूटर शिक्षा मिलना भी शुरू हो गया है। इस सम्बंध में खुशी व्यक्त करते हुए बरबीघा के श्रीबाबू चौक (हटिया मोड़) पर स्थित कुणाल कुमार KYP सेंटर के डायरेक्टर गौतम कुमार ने बताया कि 27 मार्च से नए सत्र में विद्यार्थियों का नामांकन प्रारम्भ हो गया है। साथ ही जो विद्यार्थी कोरोना काल में कंप्यूटर शिक्षा से वंचित रह गए थे, उनकी भी कक्षाएं चालू की जाएगी। हालांकि बिहार सरकार ने कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए सेंटर खोलने से पूर्व सभी सेंटर को सैनिटाइज करवाने का आदेश दिया है। इसके अलावा विद्यार्थियों को वर्ग संचालन के दौरान मास्क लगाकर व एक दूसरे से 6 फीट की दूरी मेंटेन रखने का भी आदेश दिया गया है। वहीं कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले सेंटरों पर सख्त कार्रवाई का भी निर्देश दिया गया है। गौतम कुमार ने बताया कि सेंटर पर आने वाले विद्यार्थियों के लिए वाहन का व्यवस्था भी कराया गया है। साथ ही यह भी बताया कि सामान्य वर्ग के वैसे युवा जो कम से कम 10वीं पास हो और जिनकी उम्र 15 से 28 वर्ष के बीच हो, वे मुफ्त कंप्यूटर सीख सकते हैं। वही पिछड़ी जाति को 3 वर्ष जबकि अति पिछड़ी जाति को आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दी गई है। यही नहीं कंप्यूटर सीखने के दौरान विद्यार्थियों को एक हजार महीना भी दिया जाएगा। बताते चलें कि इस सेंटर के अव्वल विद्यार्थी को पूर्व में मुख्यमंत्री के द्वारा भी सम्मानित किया जा चुका है। 

Back to top button
error: Content is protected !!