आत्महत्यानालंदाशेखपुरा

फांसी के फंदे पर झूलती युवती की मिली लाश, परिजनों ने हत्या की जताई आशंका, प्राथमिकी दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस, पूरी रिपोर्ट

शेखपुरा जिले के बरबीघा नगर परिषद क्षेत्र के दिनकर नगर मोहल्ला में बुधवार की रात्रि नालंदा जिले के सरमेरा थाना के ससौर गांव के अमरनाथ प्रसाद की 20 वर्षीय बेटी सोनम कुमारी की लाश फंदे में झूलती मिली। अहले सुबह मकान मालिक के बेटे राजीव कुमार के द्वारा फोन पर बरबीघा पुलिस को सूचना मिलने के बाद लाश को कमरे में झूलता पाया गया।

https://youtu.be/N-P5n-Z-8so

लड़की के परिजन या कोई गवाह नहीं मिलने का कारण लाश को घण्टों फंदे से उतारा नहीं गया। खबर आग की तरह पूरे क्षेत्र में फैल गई। जिसके बाद बरबीघा थानाध्यक्ष जयशंकर मिश्र के द्वारा लड़की घर जाकर उसके परिजनों को इस बात की सूचना दिए जाने के बाद परिजन घटनास्थल पर पहुंचे। तब जाकर पूरे कानूनी प्रकिया के तहत परिजनों और पड़ोसियों की मौजूदगी में लाश को नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

बताते चलें कि दिनकर नगर के बीच बना यह मकान बेगूसराय जिले के गढ़पुरा थाने में कार्यरत्त पुलिस के जवान अशोक कुमार का है। उनके पुत्र राजीव के मुताबिक मकान के तीन कमरों में युवती समेत कुल 4 लोग रहते थे। जिसमें से एक कमरे में नालंदा जिले के छोटी मलवां गांव के राजेश्वर दास का पुत्र आदित्य कुमार रहता था। उसी ने लगभग 1 बजे रात को मकान मालिक के बेटे को इस घटना की सूचना दी। जबकि दूसरे कमरे में मृतका के साथ नालंदा जिले के अहियापुर मुसहरी गांव का सौरभ नामक युवक रहता था। मकान मालिक के पुत्र ने बताया कि उन दोनों ने भाई बहन बनकर कमरा किराए पर लिया था, जिसका उन्होंने फर्जी प्रमाण पत्र भी दिया था। जिसमें युवक का नाम सौरव गांगुली व युवती का नाम सोना सिन्हा व दोनों के पिता का नाम संजय प्रसाद, घर अहियापुर मुसहरी दर्ज है। वहीं ऊपर के कमरे में एक बरबीघा थाना क्षेत्र के मुसापुर गांव के महेश कुमार का पुत्र सचिन कुमार रहता था। उसने बताया कि आज सुबह 3 बजे पुलिस के द्वारा कमरे का दरवाजा खटखटाकर उसे इस घटना की जानकारी दी गई। गुप्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस मकान में पहले भी कई अनजान लड़के व लड़कियों का आना-जाना लगा रहता था। इस बात की पुष्टि मोहल्ले के लोगों से भी हुई है। वहीं दबी जुवान में मोहल्ले वाले इस मकान में रहने वाले युवकों के शराब की तस्करी में शामिल होने की बात कर रहे हैं। मामला संदिग्ध होने के कारण थानाध्यक्ष जयशंकर मिश्र के साथ पुलिस की टीम पूरी गहराई से जांच में जुटी है। इस बाबत थानाध्यक्ष ने बताया कि युवती के पिता ने सौरभ कुमार के द्वारा अपनी पुत्री की हत्या कर दोस्तों के साथ मिलकर आत्महत्या का रंग देने की आशंका जताई है। जिसके आधार पर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। पुलिस जांच के बाद मामले का खुलासा होने की संभावना है।

Back to top button
error: Content is protected !!