दुर्घटनाशेखपुरा

अनियंत्रित कार ने 8 वर्षीय बच्ची को मारा ठोकर, ग्रामीणों का दिखा अमानवीय चेहरा

शेखपुरा जिले के बरबीघा प्रखंड के कुसेढ़ी गांव के समीप बुधवार को एक अनियंत्रित अल्टो कार ने सड़क पर खड़ी एक 8 वर्षीय बच्ची को ठोकर मार दिया। इस दुर्घटना में कार बच्ची को कुछ दूर घसीटकर ले गई। जिसमें बच्ची गंभीर रूप से घायल हो गई। जिसे बच्ची के पिता द्वारा इलाज के लिए बरबीघा के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गम्भीर है। वहीं इस दुर्घटना के बाद ग्रामीणों का अमानवीय चेहरा भी खुलकर सामने आ गया। ग्रामीणों ने मदद करने की बजाय गाड़ी को चालक सहित भगा दिया। इस बात की जानकारी देते हुए पंचर की दुकान से परिवार का पेट पालने वाले बच्ची के पिता गणेश कुमार उर्फ गिरधारी राम ने बताया कि वह अपनी बच्ची शुभी कुमारी के साथ बरबीघा जाने के लिए बस आने का इंतजार कर रहे थे। उसी समय एक अनियंत्रित तेज रफ्तार से आ रही अल्टो कार ने उनकी बच्ची को ठोकर मार दिया।हालांकि उस समय ग्रामीणों के सहयोग से चालक सहित गाड़ी को पकड़ लिया गया। लेकिन बाद में कुछ ग्रामीणों ने अपने रिश्तेदार की गाड़ी होने के कारण उसे वहां से भगाने में सफल रहे। उक्त गाड़ी माफो गांव के मुखिया का बताया गया है। हालांकि मुखिया ने सहानुभूति दिखाने के लिए उस वक़्त निजी अस्पताल में आकर इलाज में खर्च होने वाली राशि वहन करने की बात कही थी। लेकिन देर शाम तक वो अस्पताल में नहीं आये। यही नहीं दुर्घटना की शिकायत करने जब वो केवटी थाने पहुंचे तो वहां से भी डांट-फटकार कर भगा दिया गया। फिलहाल फिलहाल अस्पताल में बच्ची को होश आ गया है। उसकी पसली की हड्डी टूट गई है। उसके पिता ने बताया कि गाड़ी मालिक ने मोबाइल पर पैसा लेकर आने की बात की है।

Back to top button
error: Content is protected !!