खास खबर/लोकल खबरशेखपुरा

82 लाख की ठगी के मामले में 2 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर ले गई राजस्थान पुलिस

साइबर क्राइम के एक बड़े मामले में राजस्थान पुलिस ने मिशन ओ पी पुलिस की मदद से बड़ी कार्रवाई कर ठगी के एक मामले का उद्भेदन किया। बिगत तीन दिनों से बरबीघा में डेरा डाले राजस्थान पुलिस ने जिले के बिभिन्न स्थानों से मोबाइल लोकेशन के आधार पर तीन ठगों को हिरासत में लेकर मिशन ओ पी परिसर में पूछ-ताछ किया। पूछ-ताछ के क्रम में दो युवकों की निशानदेही पर ठगी में इस्तेमाल हुए मोबाइल सहित कुछ अन्य सामान भी बरामद किया गया है।

मिशन ओ पी थाने में बैठकर कागजी कार्रवाई पूरी करती राजस्थान पुलिस की टीम

इस संबंध में राजस्थान के भीलवाड़ा जिले के प्रतापनगर थाने के थानाध्यक्ष भजन लाल ने बताया कि उनके थाना क्षेत्र के एक व्यापारी से कुल 82 लाख की ठगी हुई। ठगी के बाद थाने में मामला दर्ज हुआ, जिसके बाद वहां की पुलिस सक्रिय हुई। ठगी में इस्तेमाल हुए मोबाइल नम्बर के आधार पर जब जांच आगे बढ़ा तो मामला बरबीघा से सम्बंधित निकला। जिसके बाद मिशन ओ पी एवं बरबीघा पुलिस की सहायता से बरबीघा थाना के कुसेढ़ी गांव के बिपिन सिंह के पुत्र सोनू कुमार, बरबीघा नगर क्षेत्र के गंजपर निवासी कारू राम के पुत्र राजू कुमार उर्फ प्रदुम्मन कुमार एवं महल्लापर के निवासी शिव प्रसाद के पुत्र जितेंद्र कुमार को हिरासत में लिया गया। हिरासत में लिए गए दो युवकों ने पूछ-ताछ में इस ठगी में शामिल होने की बात स्वीकारोक्ति की है, जबकि एक युवक जितेंद्र कुमार की इस मामले में संलिप्तता साबित नहीं होने के कारण उसे छोड़ दिया गया। गिरफ्तार युवकों के खातों में ठगी के रुपये के लेन-देन का पुख्ता सबूत भी मिला है। इस बाबत मिशन ओ पी थानाध्यक्ष मनोज कुमार झा ने बताया कि हिरासत में लिए गए दो युवकों को आज शेखपुरा कोर्ट में पेशी कराकर राजस्थान पुलिस अपने साथ ले जाएगी।

Back to top button
error: Content is protected !!