राजनीतिशेखपुरा

अखिल भारतीय किसान महासभा द्वारा इस गांव में लगाया गया किसान पंचायत

शेखपुरा जिले के अरियरी प्रखण्ड के अफरडीह और गोहदा गांव में आज अखिल भारतीय किसान महासभा द्वारा किसान पंचायत लगाया गया। किसान पंचायत के अवसर पर आयोजित सभा की अध्यक्षता किसान नेता नरेश महतो और विजय कुमार विजय ने किया। किसान नेता स्वामी सहजानंद सरस्वती के जन्मदिवस 11 मार्च से शुरू किये गए इस किसान पंचायत में नेताओं ने बताया कि नया कृषि कानून खेती की नीलामी और किसानों की गुलामी वाला कानून है। नेताओं ने कहा कि इस काले कानून का विरोध सैकड़ों दिनों से दिल्ली सहित पूरे देश में किसानों द्वारा किया जा रहा है। लेकिन कार्पोरेट परस्त मोदी सरकार किसानों की मांग को अनसुनी कर रही है। अखिल भारतीय किसान महासभा द्वारा लगातार राज्य और जिला में भी किसानों की मांग को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। अब महासभा द्वारा जिला के विभिन्न गांवों में किसान पंचायत लगाकर जिला के किसानों को एकजूट करने और जागरूक करने का काम किया जा रहा है। नेताओं ने कहा कि जब तक मोदी सरकार तीनों कृषि कानून वापस नहीं लेती, न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों का अनाज बिक्री होने संबंधित कानून जब तक नहीं बन जाता। जबतक दिल्ली बोर्डर पर किसान अपनी मांगों को लेकर आंदोलन करते रहेंगे, तबतक शेखपुरा के भी किसान आंदोलन करते रहेंगे। साथ ही वहां मौजूद किसानों से 18 मार्च को पटना में आयोजित होने वाला किसान मजदूर महापंचायत में भाग लेने के लिए आह्वान किया गया। बताते चलें कि 11 से 15 मार्च तक पूरे बिहार में किसान रथ यात्रा घूमकर किसानों को एकजूट और जागरूक करने का काम किया जा रहा है। साथ ही 28 मार्च को होलिका दहन में किसान विरोधी तीनों कृषि कानून का प्रति दहन करने का निर्णय लिया गया है। इस अवसर पर किसान महासभा के राज्य पार्षद सह जिला सचिव कमलेश कुमार मानव, भाकपा माले जिला सचिव विजय कुमार विजय, RYA जिला संयोजक कमलेश प्रसाद, किसान नेता राजेश कुमार राय सहित गांव के सैकड़ों किसान मजदूरों ने भाग लिया।

Back to top button
error: Content is protected !!