खास खबर/लोकल खबरजरा हट केप्रशासनशेखपुरा

जिलास्तरीय उर्दू कार्यशाला एवं सेमिनार व मोशायरा का हुआ आयोजन, नामचीन शायरों ने अपनी शायरी और गजलों से बाँधा शमां

शेखपुरा जिले में राज्य की द्वितीय राजभाषा उर्दू भाषा को बढ़ावा देने और उसका अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार हेतु आज जिला उर्दू भाषा कोषांग के सौजन्य से शहर के टाउन हाल में जिलास्तरीय उर्दू कार्यशाला एवं सेमिनार व मोशायरा का आयोजन किया गया। उर्दू भाषा कोषांग के प्रभारी पदाधिकारी खिलाफत अंसारी की देख-रेख में डीडीसी सत्येंद्र प्रसाद सिंह, एस डी ओ निशान्त कुमार के साथ अन्य अधिकारियों के द्वारा दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर एक उर्दू पुस्तिका का बिमोचन भी किया गया। कार्यक्रम में कोविड-19 के गाइड लाइन के पालन करते हुए कई नामचीन शायरों ने अपनी शायरी और गजलों से शमां बांध दिया। पश्चिम बंगाल से आई मंजू कुमारी “फूलों के होठों पर तराना उर्दू का, बुलबुल भी गाते है गाना उर्दू का” सहित कई नज्मों पर जमकर तालियां बजी। गौरतलब हो कि इस कार्यक्रम का उद्घाटन जिला पदाधिकारी इनायत खान के हाथों होना था। पर किसी अन्य विभाग के जरूरी कार्य में व्यस्त रहने के कारण वो कार्यक्रम में नहीं पहुंच सकीं।

Back to top button
error: Content is protected !!